विज्ञापन
Home » Industry » Companiesbecome an online travel aggregator government is giving chance

घूमने-फिरने का शौक रखते हैं तो बन जाइए ऑनलाइन ट्रैवल एग्रीगेटर, सरकार दे रही है मौका

ओटीए बनने के लिए आप टूरिज्म मंत्रालय से संपर्क कर सकते हैं

1 of

नई दिल्ली। अगर आप घूमने-फिरने का शौक रखते हैं या इस प्रकार के काम में दिलचस्पी है तो टूरिज्म मंत्रालय आपको ऑनलाइन ट्रैवल एग्रीगेटर (ओटीए) बनने का मौका दे रहा है। मंत्रालय दिसंबर के अंत तक ओएटी के लिए नए दिशा-निर्देश तैयार कर रहा है जिसे दिसंबर आखिर तक लागू किया जा सकता है। ओटीए बनने के लिए आप टूरिज्म मंत्रालय से संपर्क कर सकते हैं या उनकी साइट पर जाकर विशेष जानकारी हासिल कर सकते हैं। ओटीए बनने के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा और मंत्रालय की तरफ से निर्धारित फीस देनी होगी।

 

  मंत्रालय का मानना है कि अभी जो ओटीए है, उनमें कई प्रकार की कमी है और वे एक प्लेटफार्म पर नहीं है। सरकार इन सभी को कॉमन प्लेटफार्म पर लाना चाहती है और उनके लिए दिशा-निर्देश ला रही है ताकि टूरिज्म सेक्टर को संगठित क्षेत्र के रूप में विकसित किया जा सके। इन निर्देशों का पालन करने वालों को ही ओटीए बनने की मंजूरी दी जाएगी। 

 

कौन होता है ओटीए 

ओटीए ट्रैवल प्रोडक्ट्स को बेचने वाला एजेंट के तौर पर काम करता है जैसे कि एयरलाइंस, कार रेंटल क्रूज लाइंस, होटल्स, रेलवे व अन्य वैकेशन पैकेज को सप्लायर के नाम पर ऑनलाइन बेचने का काम करता है। मतलब असली सप्लायर कोई और होता है और ओटीए उनके एजेंट होते हैं जो इंटरनेट के माध्यम से उनके प्रोडक्ट्स को टूरिस्ट को बेचते हैं। ओटीए को इन सप्लायर्स की तरफ से कमीशन दी जाती है जो इनकी कमाई होती है। 


मंत्रालय के मुताबिक अभी कई ऐसे ओटीए काम कर रहे हैं जिनके पास कोई मान्यता नहीं है। इस प्रकार के ओटीए कई बार ऐसे काम कर जाते हैं जिससे पूरे टूरिज्म बाजार पर फर्क पड़ता है। इसलिए ओटीए को मान्यता देने के लिए एक न्यूनतम बेंचमार्क जरूर होना चाहिए।  

 

अगली स्लाइड में पढ़ें ओटीए को क्या करना चाहिए

 

क्या करना चाहिए ओटीए को 

1. यात्रा से संबंधित सेवा प्रदाताओं / एजेंटों या अन्य सेवा प्रदाताओं जैसे होटलों, होमस्टे की एक लिस्ट बनाएं।

2. ब्रांड के तहत संभावित यात्रा, आतिथ्य और संबंधित सेवा प्रदाताओं / विक्रेताओं के साथ खरीदारों को जोड़े।

3. सुविधाओं  /  गुणवत्ता मानकों को निर्धारित करें और संभावित ग्राहकों की आवश्यकताओं से मेल खाने के लिए सेवा प्रदाताओं को प्रभावित करें।

4. आवश्यक बेंचमार्क, मानकों, कमीशन दरों और अन्य सेवाओं को निर्धारित करने वाले सेवा प्रदाताओं के साथ अनुबंधों में प्रवेश करें। 


अगली स्लाइड में पढ़ें ओटीए के दिशा निर्देश

दिशा-निर्देश

1. एक अनुमोदित ओटीए के रूप में किसी भी व्यक्ति को 5 साल के लिए भारत सरकार के पर्यटन मंत्रालय द्वारा मान्यता प्राप्त होती है। जिसमें संबंधित क्षेत्रीय निदेशक (आरडी), एफएचआरएआई के प्रतिनिधि और आईएटीओ, और सक्षम प्राधिकरण की मंजूरी की जरूरत होती है। सभी मामलों में जांच के बाद आवेदकों से प्राप्त दस्तावेज ऑनलाइन स्वीकार किए जाते हैं। 40 कार्य दिवसों के भीतर निरीक्षण दल द्वारा री-अपरुअल की जाता है। जिसके बाद पर्यटन मंत्रालय द्वारा शुल्क के भुगतान की पुष्टि की जाएगी। 

2. किसी भी ओटीए के लिए कार्यालय परिसर में मंत्रालय द्वारा दिए गए अनुमोदन प्रमाण पत्र को फोटो फ्रेम में प्रदर्शित करके अनिवार्य रूप से प्रदर्शित करना अनिवार्य होगा ताकि यह एक संभावित पर्यटक के लिए दृश्यमान हो और होम पेज पर एक प्रमुख लिंक के तहत भी दिखाई दे।

3. किसी भी ओटीए के अपरुअल के लिए पर्यटन मंत्रालय का फैसला अंतिम होगा। हालांकि, मंत्रालय अपने विवेकाधिकार पर किसी भी फर्म को फिर से स्वीकृति देने या किसी भी समय स्वीकृति / पुन: अनुमोदन पर रोक लगाने से इनकार कर सकता है। इस तरह के निर्णय लेने से पहले, आवश्यक कारण बताओ नोटिस जारी किया जाएगा। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss