विज्ञापन
Home » Industry » CompaniesIndia will no longer export tea to pakistan

पुलवामा हमले से गुस्साए भारतीय निर्यातक, पाकिस्तान को अब नहीं किया जाएगा चाय का निर्यात

देश की सुरक्षा ज्यादा जरूरी है- इंडिया टी एसोसिएशन

India will no longer export tea to pakistan

India will no longer export tea to pakistan जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले के बाद भारत दो पड़ोसी देशों के बीच बढ़ रहे तनाव के कारण पाकिस्तान को चाय का निर्यात रोक सकता है। इस हमले में अर्धसैनिक बलों के 42 जवान शहीद हो गए हैं। निर्यातक निकाय ने कहा है कि नुकसान के बावजूद वे केंद्र सरकार के प्रतिशोधात्मक उपाय के तहत निर्यात रोकने को तैयार हैं। यह पूछे जाने पर कि क्या भारतीय चाय निर्यातक संघ (आईटीईए) पाकिस्तान को निर्यात रोकने के लिए तैयार है।

कोलकाता। जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले के बाद भारत दो पड़ोसी देशों के बीच बढ़ रहे तनाव के कारण पाकिस्तान को चाय का निर्यात रोक सकता है। इस हमले में अर्धसैनिक बलों के 42 जवान शहीद हो गए हैं। निर्यातक निकाय ने कहा है कि नुकसान के बावजूद वे केंद्र सरकार के प्रतिशोधात्मक उपाय के तहत निर्यात रोकने को तैयार हैं। यह पूछे जाने पर कि क्या भारतीय चाय निर्यातक संघ (आईटीईए) पाकिस्तान को निर्यात रोकने के लिए तैयार है। संघ के अध्यक्ष अंशुमन कनोरिया ने जोर देकर कहा, "बेशक, हम तैयार हैं। देश और हमारे बलों और देशवासियों की सुरक्षा पहले आती है और व्यापार उसके बाद है।"

 

पुलवामा हमले में 42 जवानों की मौत 34 अन्य घायल


कनोरिया ने कहा कि चाय निर्यातक केंद्र सरकार के किसी भी फैसले का समर्थन करेंगे। गुरुवार को हुआ यह हमला जम्मू एवं कश्मीर में 1989 में आंतकवाद के उभार के बाद से सबसे बड़ा हमला है। इसमें विस्फोटकों से भरी एक एसयूवी को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की बस से जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग पर पुलवामा जिले में टकरा दिया गया, जिसमें अबतक 42 जवानों की मौत हो गई है और 34 अन्य घायल हैं। कनोरिया ने आईएएनएस को बताया, "भीषण आतंकी हमले के बाद हमने वाणिज्यिक प्रभाव के बारे में सोचने की जहमत नहीं उठाई है। देश पहले आता है और हम वास्तव में सरकार के दिशानिर्देश का इंतजार कर रहे हैं।"

 

देश की सुरक्षा ज्यादा जरूरी है- इंडिया टी एसोसिएशन


कनोरिया की बात का समर्थन करते हुए इंडिया टी एसोसिएशन के अध्यक्ष विवेक गोयनका ने आईएएनएस से कहा, "जब भी दोनों देशों में तनाव बढ़ता है, निर्यात प्रभावित होता है। हमने अतीत में भी ऐसा देखा है। हालांकि हम केंद्र सरकार के फैसले का पूर्ण समर्थन करते हैं। देश की सुरक्षा ज्यादा जरूरी है।" टी बोर्ड के आंकड़ों के मुताबिक, साल 2018 में पाकिस्तान को कुल 1.58 करोड़ किलोग्राम चाय का निर्यात किया गया, जो पिछले साल से 7.5 फीसदी अधिक है। साल 2017 में पाकिस्तान को कुल 1.54 करोड़ किलोग्राम चाय का निर्यात किया गया था। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन