विज्ञापन
Home » Industry » CompaniesGovernment can impose ban on more than 100 medicines

सरकार अप्रैल से इन 100 से ज्यादा ब्रांडेड दवाओं पर लगा सकती है रोक

2 अप्रैल को होगी ड्रग्स टेक्निकल एडवाइजरी बोर्ड की बैठक

Government can impose ban on more than 100 medicines

Government can impose ban on more than 100 medicines ब्रांडेड कंपनियों की बढ़ती मनमानी को रोकने के लिए सरकार ने बढ़ा फैसला लिया है। सरकार 100 से ज्यादा ब्रांडेड दवाओं पर प्रतिबंध लगाने की तैयारी कर रही है। 2 अप्रैल को ड्रग्स टेक्निकल एडवाइजरी बोर्ड की बैठक में इस पर फैसला लिए जाने की उम्मीद की जा रही है। सरकार ने यह फैसला इसलिए लिया है क्योंकि भारत में यह बड़ी कंपनियां जरूरी स्वीकृति के बिना ही फिक्स डोज कांबिनेशन की दवाएं बना और बेच रही हैं। जिससे इसका सीधा असर मरीजों की सेहत पर पड़ रहा है।

नई दिल्ली। ब्रांडेड कंपनियों की बढ़ती मनमानी को रोकने के लिए सरकार ने बढ़ा फैसला लिया है। सरकार 100 से ज्यादा ब्रांडेड दवाओं पर प्रतिबंध लगाने की तैयारी कर रही है। 2 अप्रैल को ड्रग्स टेक्निकल एडवाइजरी बोर्ड की बैठक में इस पर फैसला लिए जाने की उम्मीद की जा रही है। सरकार ने यह फैसला इसलिए लिया है क्योंकि भारत में यह बड़ी कंपनियां जरूरी स्वीकृति के बिना ही फिक्स डोज कांबिनेशन की दवाएं बना और बेच रही हैं। जिससे इसका सीधा असर मरीजों की सेहत पर पड़ रहा है।

और भी जरूरी कदम उठाएगी सरकार


फिक्स डोज कांबिनेशन के कारण मरीजों को गैर जरूरी दवाएं भी खानी पड़ती हैं। इसके साथ ही सरकार दवा कंपनियों की कार्यशैली में सुधार करने के लिए कुछ और जरूरी कदम उठाने की योजना पर काम कर रही है। सरकार के इस फैसले के तहत 100 अन्य दवाओं के लिए भी दवा निर्माता कंपनियों को और ज्यादा शोध करने और आंकड़े जुटाने के लिए कहा जा सकता है। ताकि इन दवाओं की गुणवत्ता और जरूरत के अनुसार सरकार इससे जुड़े फैसले कर सके। 

भारत सरकार अब कच्चा माल भेजने वाली दवा कंपनियों को क्यूआर कोड देगी


गौरतलब है कि केंद्र सरकार के पास आई शिकायतों के बाद स्वास्थ्य मंत्रालय ने इन दवाओं की गुणवत्ता और उपयोगिता की जांच-पड़ताल का जिम्मा सेंट्रल ड्रग्स स्टैंडर्ड कंट्रोल ऑर्गेनाइजेशन को दिया था।  चीन सहित कुछ अन्य देशों से दवा बनाने के लिए भारत आने वाले कच्चे माल में गड़बड़ी की शिकायत मिली थीं। जिसके बाद भारत सरकार अब कच्चा माल भेजने वाली दवा कंपनियों को क्यूआर कोड देगी।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन