Home » Industry » Companiesफेसबुक/गूगल कमाई गंदा धंधा वेश्‍यावृत्ति Facebook Google profits pop-up brothels

'कोठे' से कमा रहे फेसबुक-गूगल, ब्रिटिश रिपोर्ट ने खोला गंदे धंधे का राज

ब्रिटेन की नेशनल क्राइम एजेंसी (NCA) ने आरोप लगाया है कि फेसबुक और गूगल वेश्‍यावृत्ति को बढ़ावा देकर मुनाफा कमा रही हैं.

1 of

लंदन. ब्रिटेन की नेशनल क्राइम एजेंसी (NCA) ने आरोप लगाया है कि फेसबुक और गूगल वेश्‍यावृत्ति को बढ़ावा देकर मुनाफा कमा रहे हैं। एजेंसी का आरोप है कि दुनिया भर में फेमस इन डिजिटल प्‍लेटफॉर्म का यूज ब्रिटेन में वेश्‍यावृत्ति के लिए हो रहा है। वेब कंपनियां मानव तस्‍करी के जरिए ब्रिटेन लाई गई औरतों के शेषण में अहम रूप से मददगार बनकर उभरे हैं।

 

कानून बनाने पर विचार कर रहीं सरकार 
इंटरनेट पर बिनारोकटोक होने वाले वेश्‍यावृत्ति को देखते हुए दुनिया भर की सरकारों ने इसपर कदम उठाना शुरू किया है। ब्रिटेन सरकार एक कानून भी लाने पर विचार कर रही है। इसके तहत वेश्‍यावृत्ति को बढ़ावा देने वाले कॉन्‍टेंट को परोसने पर इंटरटेन कंपनियां जिम्‍मेदार होंगी। इसी तरह के कानून पर अमेरिकी सरकार भी काम कर रही है। ताकि इंटरनेट के प्‍लेटफॉर्म पर सेक्‍स ट्रैफिकिंग को रोका जा सके।  

 

 

आगे पढ़ें-कई सेक्‍स क्‍लब की हुई पहचान 

कई सेक्‍स क्‍लब की हुई पहचान 
संडे टाइम्‍स में छपी रिपोर्ट में कहा गया है कि कॉर्नेवाल, कैंब्रिज स्विडन समेत अन्‍य हॉलीडे डेस्टिनेशन में खास तरह के सेक्‍स क्‍लब की पहचान की गई है। ये क्‍लब इंटरनेट के पॉपुलर प्‍लेटफॉर्म के जरिए वेश्‍यावृत्ति को अंजाम दे रहे हैं। NCA का आरोप है कि इन गतिविधियों ने फेसबुक और गूगल को कमाई हो रही है। इसके जरिए महिलाओं की ट्रैफिकिंग की जा रही है।  

 

आगे पढ़ें-इंटरनेट कंपनियां उठाएं कदम

 

 

इंटरनेट कंपनियां उठाएं कदम 
मानव तस्‍करी पर काम करने वाली  NCA की इकाई के प्रमुख  विल केर के मुताबिक, लोग मानव तस्‍करी और वेश्‍यावृत्ति के लिए इंटरनेट और सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म का यूज कर रहे हैं। केर के मुताबिक, इस तरह की गतिवधियों से पैसा बनाने वाले इंटरनेट प्‍लेटफॉर्म को और ज्‍यादा कदम उठाने की जरूरत है, ताकि इस तरह का सोशण रोका जा सके। 

 

 

आगे पढ़ें-फेसबुक का दावा-इसे रोकना सबकी जिम्‍मेदारी 

 

 

इसे रोकना सबकी जिम्‍मेदारी: फेसबुक 
सेक्‍स ट्रैफिकिंग से जुड़ी फेसबुक की चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर शेरिल सैनबर्ग के मुताबिक, यंग लड़के लड़कियों के चलते इस तरह की प्रॉब्‍लम ज्‍यादा आ रही है। इसके खिलाफ संघर्ष करना हम सबकी साझी जिम्‍मेदारी है। इसीलिए फेसबुक ऐसे कानून का समर्थन करती है, जिसमें इंटरनेट पर सेक्‍स ट्रैफिकिंग फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने का प्रावधान हो।   

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट