बिज़नेस न्यूज़ » Industry » CompaniesGST रेट कम होने के बाद भी Dominos Pizza ने नहीं घटाए दाम, सरकार ने दिया नोटिस

GST रेट कम होने के बाद भी Dominos Pizza ने नहीं घटाए दाम, सरकार ने दिया नोटिस

नेशनल एंटी प्रॉफिटिंग अथॉरिटी के सामने पेश होगी कंपनी.....

1 of

नई दिल्‍ली। सरकार की ओर से GST रेट कम किए जाने के बाद भी ग्राहकों से पुराना दाम वसूलने के आरोप में डोमिनोज पिज्‍जा (Dominos Pizza) को नोटिस जारी किया गया है। भारत में डोमिनोज पिज्‍जा (Dominos Pizza) और डंकिंन डोनट्स (Dunkin Donuts) फूड चेन को ऑपरेट करने वाली कंपनी जुब्लिएंट फूडवर्क्‍स लिमिटेड (Jubilant FoodWorks Ltd) से पूछा गया है कि आखिर उसने अपने आउटलेट्स पर GST रेट कट का फायदा ग्राहकों को क्‍यों नहीं दिया। हालांकि जुब्लिएंट फूडवर्क्‍स लिमिटेड ने दावा किया कि उसने ग्राहकों को रेट कट का फायदा दिया है। 

 

कंपनी ने माना- मिला सरकार का नोटिस 


जुब्लिएंट फूडवर्क्‍स लिमिटेड ने नोटिस मिलने की बात स्‍वीकार करते हुए आरोपों को खारिज कर दिया। कंपनी ने कहा कि जल्‍द ही वह  इस पूरे मामलें में नेशनल एंटी प्रॉफिटिंग अथॉरिटी (NAA) के सामने पेश होगी। बता दें कि NAA के एंटी प्रॉफिटिंग डायरेक्‍टर जनरल (DGS) की ओर से ही यह नोटिस जारी किया गया है। NAA ने इस मामले से जुड़ी जांच के संबंध में ही कंपनी को तलब किया है। इस बात की जानकारी देते हुए जुब्लिएंट फूडवर्क के प्रवक्‍ता ने कहा कि कंपनी ने जीएसटी रेट कट का फायदा ग्राहकों को ट्रांसफर किया है। हम इसी के मुताबिक, अपना मामला  NAA के समक्ष पेश करेंगे। 


18 से सीधा 5 फीसदी कर दिए गए थे रेट 


पिछले साल नवंबर में ही जीएसटी काउंसिल ने सभी तरह के रेस्‍टोरेंट में लगने वाले रेट को 18 फीसदी से सीधा 5 फीसदी कर दिया था। इस रेट कट का फायदा सिर्फ उन्‍हीं रेस्‍टोरेंट को नहीं मिलेगा जो रेस्‍टोरेंट 7500 रुपए या इससे ज्‍याया किराए वाले होटलों में मौजूद हों। हालांकि डोमिनोज के ज्‍यादातर आउटलेट मॉल, स्‍टोर या मार्केट्स में हैं। ऐसे में इनपर 5 फीसदी ही जीएसटी ही अप्‍लाई होगा। बता दें कि इससे पहले रेस्‍टोरेंट्स पर 2 रेट से जीएसटी लगता था। एक तरफ जहां नॉन एसी रेस्‍टोरेंट पर जीएसटी की दर जहां 12 फीसदी रखी गई थी, वहीं नॉन  रेस्‍टोरेंट से 18 फीसदी की दर से जीएसटी वसूला जा रहा था। हालांकि अब दोनों से 5 फीसदी के रेट से ही जीएसटी वसूला जाता है। 

 

अब तक 15 कंपनियों को मिला नोटिस 


 पिछले साल 1 जुलाई को लागू होने के बाद DGS अब तक  जुब्लिएंट फूडवर्क्‍स लिमिटेड समेत 15 कंपनियों को प्रोफिटेरिंग एक्‍ट के तहत नोटिस भेज चुका है। अपनी जांच के तहत   DGS  ने जुब्लिएंट फूडवर्क्‍स लिमिटेड  से कहा कि ग्राहकों को प्रॉफिट पास करने से जुड़े दस्‍तावेज कंपनी उनके सामने पेश करे। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट