विज्ञापन
Home » Industry » Companiesdelhi City Of Lakes Arvind Kejriwal's Mega Plan

दिल्ली बनेगा 159 झीलों का शहर, सरकार ने दी 376 करोड़ के प्रोजेक्ट की मंजूरी

अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में 200 झीलों के पुनर्विकास का निर्देश दिया है।

delhi City Of Lakes Arvind Kejriwal's Mega Plan
 पानी की किल्लत से जूझ रही दिल्ली जल्द ही झीलों का शहर बनने वाली है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली जलबोर्ड की बैठक में 376 करोड़ की लागत में 159 झीलों की विकास योजना को मंजूरी दे दी है। आपको बता दें कि इन सभी झीलों में बरसात का पानी इकट्ठा किया जा सकेगा। इसके साथ ही सीवरेज शोधन संयंत्रों से उपचारित पानी को भी इनमें एकत्रित किया जा सकेगा। 

नई दिल्ली। पानी की किल्लत से जूझ रही दिल्ली जल्द ही झीलों का शहर बनने वाली है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली जलबोर्ड की बैठक में 376 करोड़ की लागत में 159 झीलों की विकास योजना को मंजूरी दे दी है। आपको बता दें कि इन सभी झीलों में बरसात का पानी इकट्ठा किया जा सकेगा। इसके साथ ही सीवरेज शोधन संयंत्रों से उपचारित पानी को भी इनमें एकत्रित किया जा सकेगा। इन झीलों में भूजल रिचार्ज की सुविधा होगी। इसलिए इन झीलों का विकास होने के बाद यह परियोजना दिल्ली के गिरते भूजल स्तर को सुधार करने में मददगार साबित होगी। दिल्ली जल बोर्ड के मुताबिक, अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में 200 झीलों के पुनर्विकास का निर्देश दिया है।

 

159 झीलों को विकसित करने की योजना के मिली मंजूरी
इसी क्रम में 159 झीलों को विकसित करने की योजना के भी मंजूरी दी गई है। बता दें कि ये झीलें 350 एकड़ एरिया में फैली होंगी। इसमें 1581 मिलियन लीटर पानी का भंडारण किया जा सकेगा। इन झीलों का विकास वैज्ञानिक तौर तरीके से होगा। ताकि बारिश का पानी आसानी से उन तक पहुंच सके। दिल्ली जल बोर्ड का कहना है कि इस योजना के चलते  रोहिणी और निलोठी में दो बड़ी झीलों का निर्माण होगा। 

 

निलोठी में 25 एकड़ जमीन पर भी झील का निर्माण किया जाएगा
इसमें रोहिणी में 32 एकड़ जमीन पर कृत्रिम झील तैयार की जाएगी। इस पर कुल 53.8 करोड़ खर्च होगा। इसके अलावा निलोठी में 25 एकड़ जमीन पर भी झील का निर्माण किया जाएगा। इसके निर्माण पर कुल 23.5 करोड़ रुपया खर्च होगा। इसके साथ ही दिल्ली जल बोर्ड का कहना है कि इस प्रोजेक्ट से 5.02 लाख लोगों को फायदा मिलेगा। साथ ही यमुना में जा रहे प्रदूषण को भी रोका जा सकेगा। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन