Home » Industry » CompaniesBiggest weaknesses of Bill gates

बिल गेट्स भी खा गए मात, दो बातों को मानते हैं सबसे बड़ी कमजोरी

गेट्स ने अपनी सबसे बड़ी कमजोरियों का खुलासा फरवरी 2018 में न्‍यूयॉर्क के हंटर कॉलेज के एक प्रोग्राम में किया था..

Biggest weaknesses of Bill gates

नई दिल्‍ली. कहते हैं कि दुनिया में कोई भी परफेक्‍ट नहीं होता। किसी न किसी में कोई न कोई कमी या कमजोरी जरूर होती है। इस सच्‍चाई से बिल गेट्स जैसे अरबपति भी अछूते नहीं हैं। माइक्रोसॉफ्ट के को-फाउंडर और दुनिया के दूसरे सबसे ज्‍यादा रईस बिल गेट्स के अंदर भी कुछ चीजें ऐसी हैं, जिन्‍हें वह अपनी सबसे बड़ी कमजोरियों में शामिल करते हैं। उनका कहना है कि उनकी भी कुछ लिमिटेशंस हैं और वह उन्‍हें तोड़ नहीं पाते हैं। 

 

बिल गेट्स ने अपनी सबसे बड़ी कमजोरियों का खुलासा फरवरी 2018 में न्‍यूयॉर्क के हंटर कॉलेज के एक प्रोग्राम में किया था। उस दौरान बिल गेट्स की पत्‍नी मेलिंडा गेट्स और अमेरिकी गीतकार-कंपोजर-एक्‍टर लिन-मैनुअल मिरांडा भी मौजूद थे। आइए आपको बताते हैं कि उस प्रोग्राम में बिल गेट्स ने किन चीजों को अपनी सबसे बड़ी कमजोरी बताया-   

 

नियुक्ति और मैनेजमेंट की समस्‍याओं से रहते हैं दूर

गेट्स के मुताबिक, उनकी सबसे बड़ी कमजोरी यह है कि वह नियुक्ति और मैनेजमेंट से जुड़ी समस्‍याओं से निपटने से बचते हैं। वह हमेशा ऐसे मामलों में अन्‍य लोगों को आगे कर देते हैं। उन्‍हें सिस्‍टम्‍स से जुड़ी जटिल समस्‍याएं उतनी कठिन नहीं लगतीं, जितना नियुक्ति और मैनेजमेंट से जुड़े मामले। 

 

ये भी पढ़ें- बिल गेट्स ने पढ़ी अपने दोस्‍त की किताब, कहा- लोग पढ़ लें तो बेहतर बन जाएगी दुनिया

 

सेल्‍स और मार्केटिंग के मामलों से भी रहते हैं दूर

गेट्स ने यह भी कहा कि इस कमजोरी के अलावा वह सेल्‍स और अकाउंटिंग जैसे क्षेत्रों के मामलों में हाथ डालने से भी बचते हैं। गेट्स के लिए ये क्षेत्र, इंजीनियरिंग की तरह उत्‍साहित करने वाले नहीं हैं, इसलिए वह इनमें और इनसे जुड़े मामलों में कोई रुचि ही नहीं लेते हैं। इसी वजह के चलते उन्‍होंने इन क्षेत्रों के लिए बड़े पैमाने पर लोग रखे हुए हैं। 

 

हर काम कर लेना एक आदमी के बस की बात नहीं

गेट्स का कहना है कि हर आदमी कंपनी से जुड़े हर मामलों में अच्‍छा हो, उसे हर पहलू की अच्‍छी जानकारी हो और उत्‍साहित हो, ऐसा नहीं हो सकता। आप जानकारी रख सकते हैं लेकिन उसमें अपने पसंद के फील्‍ड के बराबर आप अच्‍छे या नॉलेजेबल हों, यह जरूरी नहीं। इसी के चलते कंपनियां अलग-अलग क्षेत्रों के लिए स्किल्‍ड और टैलेंटेड लोगों को रखती हैं।

 

सोर्स- CNBC

 

ये भी पढ़ें- इंटर्नशिप ने सिखाया लाइफ का अहम सबक, बिल गेट्स-स्‍टीव जॉब्‍स और एलन मस्‍क को दुनिया के अमीरों में कर दिया शुमार

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट