विज्ञापन
Home » Industry » CompaniesMallya loan fraud case

विजय माल्या केस के लपेटे में आ सकते हैं देश के ये बड़े उद्योगपति

जांच एंजेसियों ने शुरू की पड़ताल

1 of

नई दिल्ली. विजय माल्या केस में देश के कई बड़े उद्योगपतियों का नाम सामने आ सकता है। इस मामले में जांच एजेंसियों ने पड़ताल शुरू कर दी है। जांच एजेंसियां माल्या केस में डेक्कन हेराल्ड एविएशन लिमिटेड के फाउंडर जी आर गोपीनाथ की भूमिका की जांच कर रही है।

 

गोपीनाथ रहे हैं किंगफिशर एयरलाइंस के डायरेक्टर

सूत्रों ने बताया कि यह मामला भगोड़े आर्थिक अपराधी विजय माल्या की दीवालिया हो चुका किंगफिशर एयरलाइंस के लोन डिफॉल्ट में गोपीनाथ की कथित भूमिका रही है। बता दें कि जब ये लोन दिए गए थे उस वक्त गोपीनाथ किंगफिशर के डायरेक्टर थे। जांच एजेंसी एसबीआई से डेक्कन एविएशन को मंजूर किए गए 340 करोड़ रुपए के लोन के संबंध में गोपीनाथ की जांच कर रही हैं।

किंगफिशर एयरलाइंस ने गोपीनाथ को दिए थे 30 करोड़ रुपए

जांच के मुताबिक गोपानाथ ने डायवर्जन के इंस्ट्रूमेंट्स पर दस्तखत किए थे। वह डेक्कन एविएशन लिमिटेड के ऑथराइज्ड सिग्नेटरी थे। किंगफिशर एयरलाइंस ने फरवरी में गोपीनाथ को 30 करोड़ रुपए दिए थे। इस पेमेंट की भी जांच की जा रही है।

 

 

गोपीनाथ को 30 करोड़ रुपए दिए गए

सीरीयस फ्रॉड इनवेस्टिगेशन ऑफिस ने 2017 की एक रिपोर्ट में इस बात पर सवाल उठाया था कि स्टेकहोल्डर्स या हाईकोर्ट को जनकारी दिए बगैर नॉन कंपनीट फीस के रुप में गोपीनाथ को 30 करोड़ रुपए दिए थे। एजेंसियों का मानना है कि माल्या के खिलाफ दी गई दलीलें गोपीनाथ के खिलाफ लागू होती हैं।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन