बिज़नेस न्यूज़ » Industry » Companiesएयर डेक्कन की ReEntry, मुंबई से जलगांव के लिए भरी पहली उड़ान

एयर डेक्कन की ReEntry, मुंबई से जलगांव के लिए भरी पहली उड़ान

भारत के पहले लो कॉस्‍ट एयरलाइन कंपनी एयर डेक्‍कन की विमान सेवा 'उड़ान' योजना के तहत शनिवार को एक बार फिर से शुरू हो गई।

1 of

नई दिल्‍ली। भारत के पहले लो कॉस्‍ट एयरलाइन कंपनी एयर डेक्‍कन की विमान सेवा 'उड़ान' योजना के तहत शनिवार को एक बार फिर से शुरू हो गई। एयर डेक्कन क्षेत्रीय कनेक्टिविटी योजना 'उड़ान' के तहत लगभग एक दशक बाद एयर डेक्कन उत्तरी महाराष्ट्र के मुंबई को जलगांव से जोड़ रही है।

 

कंपनी के फाउंडर कैप्‍टन जीआर गोपीनाथ ने बताया कि  हमें नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) से अनुमति मिल गई है । एयर डेक्कन के अधिकारी ने कहा कि विमानन कंपनी की पहली उड़ान शनिवार को दोपहर 12 बजे मुंबई से जलगांव के लिए उड़ान भर चुकी है। तय निमयों के मुताबिक, शनिवार को शाम 6.20 बजे नासिक से पुणे भी एक विमान जाएगा। क्षेत्रीय संपर्क योजना 'उड़ान' के तहत सरकार का उद्देश्य एयर यात्रा को अधिक किफायती बनाना है।

 

 

कल मिली थी मंजूरी 


डीजीसीए ने कल बताया था कि जी. आर. गोपीनाथ द्वारा प्रवर्तित एयर डेक्कन को यात्रियों के नियमित उड़ान के लिए लिस्‍टेड कर दिया गया है। अभी तक कंपनी के पास नॉन लिस्‍टेड पैसेंजर ऑपरेशंस परमिट था। इस मंजूरी के बाद वह क्षेत्रीय हवाई संपर्क योजना उड़ान के तहत अपने विमानों का परिचालन करने में सक्षम होगी। 

 

2003 में हुई थी स्‍थापना 


एयर डेक्‍कन की स्‍थापना भारतीय आर्मी के कैप्‍टन गोपीनाथ ने 2003 में की थी। कंपनी का हेडक्‍वार्टर बेंगलुरु में है।  इस एयरलाइन में अगस्‍त 2003 में बेंगलुरु से हुबली के लिए अपना पहला ऑपरेशंस  लांच किया था। 2007 में यह कंपनी विजय माल्‍या की किंगफिशर से मर्ज हो गई। इसके अगले साल से ही एयर डेक्‍कन घाटे में चलने लगी। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट