बिज़नेस न्यूज़ » Industry » AutoTATA दे रही है ट्रक ड्राइवरों को कंडोम, जानिए क्‍यों

TATA दे रही है ट्रक ड्राइवरों को कंडोम, जानिए क्‍यों

कंपनी ने यह मुहि‍म ड्राइवरों को जागरूक करने के लि‍ए शुरू कि‍या है।

1 of
 
नई दि‍ल्‍ली। टाटा मोटर्स ने ट्रक ड्राइवरों के लि‍ए नई पहल शुरू की है। ट्रकों के पीछे आपने अक्सर पढ़ा होगा ‘यूज डि‍पर एट नाइट’। टाटा ने इन शब्दों का मतलब ही बदल दि‍या है। टाटा मोटर  ने सप्लाई चेन कंपनी ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (टीसीआई) और कम्‍युनि‍केशन एजेंसी रिडिफ्यूजन ने ट्रक ड्राइवरों को ध्‍यान में रखते हुए एक कंडोम कैंपेन शुरू किया है। जिसे 'यूज डिपर एट नाइट' का नाम दिया गया है। कंपनी ने यह मुहि‍म ड्राइवरों को जागरूक करने के लि‍ए शुरू कि‍या है।
 
अगली स्‍लाइड में – अब तक कि‍तने कंडोम बेचे जा चुके हैं...
 
अब तक कि‍तने कंडोम बेचे
 
ट्रक ड्राइवरों को सुरक्षित सेक्स की बात समझाने के लिए टाटा मोटर्स ने टीसीआई और रिडीफ्यूजन के साथ मिलकर इस मुहिम की शुरुआत इसी साल अप्रैल में की थी। इसके तहत अब तक 45,000 से ज्यादा कंडोम बेचे जा चुके हैं।
 
अगली स्‍लाइड में - क्‍या है इस प्रोडक्‍ट की कीमत...
 
क्‍या है इस प्रोडक्‍ट की कीमत
 
कैंपेन के तहत 2 रुपए की कीमत में कंडोम लॉन्च किए गए हैं। तीन के पैक वाले इस प्रोडक्‍ट की कीमत 2 रुपए है। इसका नाम डिपर रखा गया है। चैंबर ऑफ टीसीआई फाउंडेशन के मुताबि‍क, सरकार ने इसका रेट 9.75 रुपए  नि‍र्धारि‍त कि‍या है।
 
अगली स्‍लाइड में – कहां बि‍क रहा है यह प्रोडक्‍ट...
 
कहां बि‍क रहा है यह प्रोडक्‍ट
 
इस खासतौर पर लुघि‍याना, कानपुर और वाशी में मौजूद खुशी क्‍लि‍नि‍क और उसके आसपास के इलाकों में बेचा जा रहा है। इसके अलावा, इसे हाईवे पर चलने वाले दुकानों, होटलों और यहां तक कि पेट्रोल पंप से भी बेचा जा रहा है। पैकेट को उसी अंदाज में तैयार किया है जैसे रंग-बिरंगे ट्रक नजर आते हैं।
 
अगली स्‍लाइड में – प्रचार करने पर कोई खर्च नहीं...
 
प्रचार करने पर कोई खर्च नहीं
 
आमतौर पर इस तरह के कैंपेन अखबार, टीवी या रेडियो जैसे मीडिया के जरि‍ए कि‍ए जाते हैं। उसमें भी किसी कंपनी का अपना विज्ञापन ही हावी रहता है। हालांकि‍, टाटा केवल ट्रकों के पीछे इसे लि‍खकर ही इसका प्रचार कर रहा है। इसके वि‍ज्ञापन पर कोई खर्च नहीं कि‍या गया है।
 
अगली स्‍लाइड में – ट्रक ड्राइवरों को सबसे ज्‍यादा जरूरत क्‍यों...
 
ट्रक ड्राइवरों को सबसे ज्‍यादा जरूरत क्‍यों
 
एक रि‍पोर्ट के मुताबि‍क, भारत के हाईवे पर अपनी लंबी यात्राओं के दौरान करीब 20 लाख ट्रक ड्राइवर सेक्स वर्कर्स के पास जाते हैं, लेकिन इनमें से केवल 11.4 फीसदी ही कंडोम का इस्तेमाल करते हैं। ज्यादातर ड्राइवरों में एड्स को लेकर जागरूकता नहीं है। यही नहीं, इनमें से 16 फीसदी ऐसे पाए गए जो सेक्स ट्रांसमिटेड डिजिज (STDs) से ग्रसित हैं।
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट