Home »Industry »Auto» Automobile Companies Witnessed A Revenue Loss Of Rs 1200 Crore Due Bs 3 Ban

हैवी डि‍स्‍काउंट के बावजूद ऑटो कंपनि‍यों को हुआ 1,200 करोड़ का घाटा, नहीं बि‍के 1.2 लाख व्‍हीेकल

हैवी डि‍स्‍काउंट के बावजूद ऑटो कंपनि‍यों को हुआ 1,200 करोड़ का घाटा, नहीं बि‍के 1.2 लाख व्‍हीेकल
 
नई दि‍ल्‍ली। भारत स्‍टेज 3 (बीएस-3) व्‍हीकल्‍स की सेल को 1 अप्रैल 2017 से बंद करने की वजह से कंपनि‍यों को भारी नुकसान उठाना पड़ा है। सोसाइटी ऑफ इंडि‍यन ऑटोमोबाइल मैन्‍युफैक्‍चरर्स (सि‍आम) ने जारी बयान में कहा है कि‍ सुप्रीम कोर्ट के बीएस-3 व्‍हीकल्‍स की सेल बैन करने वाले आदेश से ऑटो कंपनि‍यों को 1200 करोड़ रुपए का रेवेन्‍यू लॉस हुआ है। सि‍आम ने यह भी कहा कि‍ मौजूदा समय में अब भी 5,000 करोड़ रुपए की बीएस-3 व्‍हीकल इन्‍वेंटरी बची हुई है।
 
8 फीसदी बढ़ी डोमेस्‍टिक कार सेल
 
सि‍आम की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबि‍क, डोमेस्‍टि‍क कार सेल मार्च 2017 में 8.17 फीसदी बढ़कर 1.90 लाख यूनि‍ट्स रही जबकि‍ एक साल पहले यह आंकड़ा 1.75 लाख यूनि‍ट्स का था। वहीं, डोमेस्‍टि‍क पैसेंजर व्‍हीकल सेल्‍स की ग्रोथ 9.96 फीसदी रही। मार्च 2017 में 2.82 लाख पैसेंजर व्‍हीकल्‍स बेचे गए जबकि‍ पि‍छले साल की समान अवधि‍ में यह आंकड़ा 2.56 लाख यूनि‍ट्स था।
 
मोटरसाइकि‍ल की सेल 3.33 फीसदी घटी
 
जारी आंकड़ों के मुताबि‍क, मोटरसाइकि‍ल की सेल मार्च में 9.15 लाख यूनि‍ट्स रही जबकि‍ मार्च 2016 में यह आंकड़ा 9.46 लाख यूनि‍ट्स का था। इसमें 3.33 फीसदी की गि‍रावट दर्ज की गई है। टोटल टू-व्‍हीलर सेल मार्च में 14.71 लाख यूनि‍ट्स रही जो कि‍ एक साल पहले 14.67 लाख यूनि‍ट्स थी।
 
कमर्शि‍यल व्‍हीकल्‍स की सेल 9.26 फीसदी बढ़ी
 
सि‍आम ने कहा कि‍ कमर्शि‍यल व्‍हीकल्‍स की सेल 9.26 फीसदी बढ़कर 87,257 यूनि‍ट्स रही। सभी कैटेगरी की व्‍हीकल सेल्‍स की ग्रोथ 1.33 फीसदी बढ़कर 18.80 लाख यूनि‍ट्स रही जोकि‍ पहले 18.55 लाख यूनि‍ट्स थी। इसके अलावा, मार्च 2017 के अंत तक फाइनेंशि‍यल ईयर की डोमेस्‍टि‍क पैसेंजर व्‍हीकल सेल्‍स 30.46 लाख यूनि‍ट्स रही जो कि‍ पि‍छले साल 9.23 फीसदी ज्‍यादा है। फाइनेंशि‍यल ईयर 2015-16 में यह आंकड़ा 27.89 लाख यूनि‍ट्स थी।

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY