विज्ञापन
Home » Budget 2019Budget 2019 : green cess on petrol diesel vehicles

Budget 2019 : पेट्रोल-डीजल से चलने वाली गाड़ियों पर लग सकता है ग्रीन सेस

Budget 2019 से इलेक्ट्रिक व्हीकल इंडस्ट्री की अपेक्षाएं 

Budget 2019 : green cess on petrol diesel vehicles

Budget 2019 : expections of Electric Vehicle Indusry 

Budget 2019 में पेट्रोल-डीजल से चलने वाले गाड़ियों पर ग्रीन सेस लग सकता है। बैटरी से चलने वाली गाड़ियों को प्रमोट करने के लिए सोसाइटी ऑफ मैन्युफैक्चरर्स ऑफ इलेक्ट्रिक व्हीकल्स (SMEV) ने सरकार से इस आशय की सिफारिश की है। SMEV ने कहा है कि सभी आईसी इंजन वाले वाहनों पर ग्रीन टैक्स लगाना चाहिए, जिससे सरकारी खजाने पर बोझ न पड़े। 

नई दिल्ली. Budget 2019 में पेट्रोल-डीजल से चलने वाले गाड़ियों पर ग्रीन सेस लग सकता है। बैटरी से चलने वाली गाड़ियों को प्रमोट करने के लिए सोसाइटी ऑफ मैन्युफैक्चरर्स ऑफ इलेक्ट्रिक व्हीकल्स (SMEV) ने सरकार से इस आशय की सिफारिश की है। SMEV ने कहा है कि सभी आईसी इंजन वाले वाहनों पर ग्रीन टैक्स लगाना चाहिए, जिससे सरकारी खजाने पर बोझ न पड़े। 

 

इन्सेंटिव दिए जाएं 

 

SMEV के डीजी सोहिन्दर गिल ने कहा कि बजट 2019-20 में इलेक्ट्रिक मोबिलिटी को 2030 तक 30% तक पहुंचाने के लिए स्थिर और दीर्घकालिक नीतियों की घोषणा की जानी चाहिए और इन्सेंटिव घोषित किए जाएं। 

 

20000 करोड़ की घोषणा हो 

 

गिल ने बताया कि इलेक्ट्रिकल व्हीकल इंडस्ट्री को उम्मीद है कि बजट में अगले 2 वर्षों में कम से कम 20000 करोड़ रुपये आवंटित करने की घोषणा की जाए। साथ ही, शीर्ष 10 सबसे प्रदूषित शहरों में कम से कम 10 लाख इलेक्ट्रिकल व्हीकल का टारगेट सुनिश्चित किया जाए। फास्टर एडॉप्शन एंड मैन्युफैक्चरिंग आफ हाइब्रिड एंड इलेक्ट्रिक वेहिकल्स (FAME) के दूसरे चरण की घोषणा जल्द की जाएगी, जिसे अगले 6 साल के भीतर पूरा किया जाए। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन