Home » Industry » AutoMaruti Suzuki sales decreased

जाम लगने से घटने लगी कारों की बिक्री

डिस्काउंट देने का नहीं हो रहा ग्राहकों पर असर

1 of

नई दिल्ली. देश में पिछले कुछ दशकों में कारों की काफी अच्छी बिक्री रही। लेकिन अब इसमें कमी देखी जा रही है। इसकी कई वजह जैसे फ्यूल प्राइस का बढ़ना, फाइनेंस रेट हो सकती है। लेकिन शहरी इलाकों में लगने वाला ट्रैफिक भी कारों की कम बिक्री की एक वजह बन रहा है। इसके अलावा शेयर्ड मोबिलिटी प्लेयर जैसे ओला और उबर की बढ़ती लोकप्रियता की वजह से लोग कार खरीदने में कम इंटरेस्ट दिखा रहे हैं। 

 

मारुति सुजुकी की कारों की बिक्री में फ्लैट ग्रोथ 

मारुति सुजुकी के सीनियर डॉयरेक्टर (सेल्स एंड मार्केटिंग) आरएस कल्सी ने कहा कि पिछले एक दशक में मारुति सुजुकी की बिक्री काफी अच्छी रही। देश में बिकने वाली दो में से एक कार मारुति सुजुकी की होती थी। लेकिन पिछले दो माह में मारुति सुजुकी की कारों में फ्लैट ग्रोथ देखी गई है। उनके मुताबिक शहरों के हैवी ट्रैफिक की वजह से लोग कार राइडिंग का लुफ्त नहीं उठा पा रहे हैं। ऐसे में वो शेयर्ड कैब का उपयोग करना ज्यादा बेहतर मान रहे हैं। इस बार के फेस्टिवल सीजन के दौरान भी कारों की कम बिक्री हुई है। 

 

आगे पढें-शहरी और ग्रामीण इलाकों मे कैसी है कार डिमांड

शहरी क्षेत्रों में सबसे ज्यादा घटी कार की डिमांड

कल्सी के मुताबिक शहरों से अलग रूरल कार मार्केट में अच्छी ग्रोथ रही है, जहां शहरी क्षेत्र में 2-3 फीसदी की दर से कारों में ग्रोथ हुई। वहीं ग्रामीण इलाकों में 12 से 14 फीसदी से कारों की ग्रोथ दर्ज हुई। उनके मुताबिक यह लगातार दूसरा साल है, जब शहरी इलाकों में कम कारों की बिक्री हुई है।

 

आगे पढ़ें-डिस्काउंट के बाद नहीं बढ़ी कार की बिक्री

 

डिस्काउंट के बाद नहीं बढ़ी कार की बिक्री

देश में वर्ष 2017-18 में मुंबई में 20 फीसदी, बेंग्लुरु में 11 फीसदी, चेन्नई में 4.5 फीसदी कम बिक्री हुई। कल्सी ने कहा कि डिस्काउंड के बावजूद कारों की बिक्री को नहीं बढ़ाया जा सका है।  

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट