विज्ञापन
Home » Industry » AutoUnemployment may increase due to low production in automobile sector

ऑटो सेक्टर में मंदी की आहट:  फरवरी में Maruti Suzuki ने 8.3%  कम बनाई कारें 

ऑटोमोबाइल सेक्टर में उत्पादन कम होने से बेरोजगारी बढ़ने की आशंका

Unemployment may increase due to low production in automobile sector

वाहनों की डिमांड घटने से कंपनियों को उत्पादन कम करने की नौबत आ गई है। देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी ने बताया कि उसने फरवरी में उत्पादन 8.3% घटा दिया। फरवरी 2018 में इसने 1.62 लाख वाहन बनाए थे, पिछले महीने सिर्फ 1.49 लाख बनाए।

 

 

नई दिल्ली.

वाहनों की डिमांड घटने से कंपनियों को उत्पादन कम करने की नौबत आ गई है। देश की सबसे बड़ी कार कंपनी Maruti Suzuki ने बताया कि उसने फरवरी में उत्पादन 8.3% घटा दिया। फरवरी 2018 में इसने 1.62 लाख वाहन बनाए थे, पिछले महीने सिर्फ 1.49 लाख बनाए। कंपनी ने अपनी तरफ से इसका कोई कारण नहीं बताया है। ऑटोमोबाइल डीलरों के संगठन फाडा ने पिछले हफ्ते कहा था कि फरवरी में यात्री वाहनों की रिटेल बिक्री 8.25% घटी है। इस खबर के बाद बीएसई में मारुति के शेयर 2.56% गिरकर 6,910.35 रुपए पर बंद हुए। लंबे वक्त तक यदि उत्पादन के हालात नहीं सुधरते हैं तो फिर बेरोजगारी बढ़ने की भी आशंका है। 
मारुति के गुड़गांव और मानेसर प्लांट की उत्पादन क्षमता सालाना 15.5 लाख गाड़ियों की है। गुजरात के हंसलपुर प्लांट की एक यूनिट में अभी सालाना 2.5 लाख गाड़ियां बन रही हैं। दूसरी यूनिट की भी इतनी ही क्षमता है। यहां उत्पादन शुरू हो गया है। 2.5 लाख गाड़ियों की तीसरी यूनिट अभी बन रही है। मांग अच्छी रही तो उत्पादन बढ़ सकता है। 


पिछले महीने भारत में कारों की रिटेल बिक्री 8.25% घटी थी 


अल्टो, स्विफ्ट, डिजायर और ब्रेजा के उत्पादन में 8.4% की कटौती 
अल्टो, स्विफ्ट, डिजायर और विटारा ब्रेजा के उत्पादन में 8.4% कटौती हुई। यह 1.61 लाख से घटकर 1.47 लाख रह गई। लेकिन ईको और ओमनी वैन के प्रोडक्शन में 22% बढ़ोतरी हुई है। 
जनवरी में उत्पादन 15.6% बढ़ा था, यात्री वाहनों में 14.3% इजाफा 
जनवरी में कंपनी का कुल उत्पादन 15.6% बढ़ा था। यात्री वाहनों में भी 14.3% बढ़ोतरी हुई थी। जनवरी में घरेलू बाजार में बिक्री 1.1% बढ़ी थी, फरवरी में इसमें 0.9% गिरावट आई थी। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन