Advertisement
Home » Industry » AutoMaruti suzuki inaugurates center of excellence

Maruti Suzuki 5000 ग्रामीण युवाओं को देगी नौकरी का मौका, खुद कराएगी ट्रेनिंग

ग्रामीण विकास मंत्रालय और मारुति सुजुकी के बीच हुआ समझौता

1 of

नई दिल्ली। देश के ग्रामीण इलाकों से आने वाले युवाओं को रोजगार के मौके उपलब्ध कराने के लिए केंद्र सरकार ने मारुति सुजुकी के साथ मिलकर एक बड़ा समझौता किया है। इसके तहत मारुति सुजुकी ग्रामीण युवाओं को इंडस्ट्री की तकनीकी जानकारी देकर प्रशिक्षित करेगी। ग्रामीण विकास मंत्रालय दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना के तहत किए गए समझौते से दो वर्षों में कम से कम 5000 उम्‍मीदवारों को प्रशिक्षण देगा और देश के ग्रामीण युवकों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए जाएंगे। 

 

हरियाणा में सेंटर ऑफ एक्सीलेंस का उद्धाटन

मारुति सुजुकी ने अपनी इसी मुहिम के तहत हर साल हरियाणा के 5 हजार पॉलिटेक्निक स्टूडेंट्स को नौकरी का मौका देगी। इसके लिए कंपनी ने हरियाणा सरकार के साथ भी एक समझौता किया है। इसमें कंपनी हरियाणा के मानेसर स्थित गवर्नमेंट पॉलीटेक्निक में सेंटर ऑफ एक्सीलेंस का उद्धाटन करेगी, जहां पॉलिटेक्निक स्टूडेंट को टेक्निकल एजुकेशन की जानकारी देकर इंडस्ट्री के लिए तैयार किया जाएगा। मारुति सुजुकी पॉलीटेक्निक स्टूडेंट्स का कोर्स पूरा होने के बाद कॉलेज प्लेसमेंट कराएगी। इसमें मारुति सुजुकी के अलावा महिंद्रा और टाटा जैसी ऑटोमोबाइल कंपनियां हिस्सा लेंगी।

कैसा होगा सेंटर ऑफ एक्सीलेंस

मारुति सुजुकी के इस सेंटर में मौजूदा दौर के सभी लेटेस्ट ट्रेनिंग टूल्स मौजूद रहेंगे। इससे स्टूडेंट्स को बेसिक ट्रेनिंग, लैब, सेफ्टी लैब, वेल्डिंग, पेंटिंग जैसी स्किल्स की ट्रेनिंग दी जाएगी।  मारुति सुजुकी अपने सीएसआर एक्टिविटी के तहत स्किल इंडिया को बढ़ावा दे रही है। मानेसर के गवर्नमेंट पॉलीटेक्निक में सेंटर ऑफ एक्सीलेंस के लिए जमीन और इमारत हरियाणा सरकार उपलब्ध कराएगी, जबकि मारुति सुजुकी लेटेस्ट टेक्नोलॉजी और ट्रेनिंग टूल्स से युक्त वर्कशॉप और लैब बनाएगी।

गुजरात में भी मारुति सुजुकी दे रही है ट्रेनिंग 

मारुति सुजुकी ने वित्तीय वर्ष 2017-18 में गुजरात के मेहसाणा में एक मॉडल आईटीआई, जापान-इंडिया इंस्टीट्यूट फॉर मैन्युफैक्चरिंग की स्थापना की है। इस संस्थान में निर्माण उद्योग के लिए 30 हजार स्किल्ड मैनपावर को ट्रेनिंग देने के लिए भारत सरकार और जापान के बीच एक समझौता हुआ है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement