Home » Industry » Autoelectric car in india

Alto और Wagon R में सीएनजी की जगह लगवा सकेंगे इलेक्ट्रिक किट

एक बार चार्जिंग में चलेगी 150 किलोमीटर

1 of

नई दिल्ली. देश में पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दाम और उससे होने वाले प्रदूषण की वजह से इलेक्ट्रिक वाहनों के प्रयोग पर जोर दिया जा रहा है। केंद्र सरकार इलेक्ट्रिक वाहनों के प्रोडक्शन और उसकी बिक्री पर छूट दे रही है, जिससे ज्यादा से ज्यादा लोग इसका प्रयोग कर सकें। लेकिन भारत जैसे देश में सभी के लिए नई इलेक्ट्रिक कार खरीदना संभव नहीं होगा। ऐसे में तेलंगाना के स्टार्टअप E Trio ने इस काम को आसान कर दिया है। कंपनी की असेंबली यूनिट बेलारम शहर में है। इस कंपनी के फाउंडर वाई. सत्या हैं। 

 

सिंगल चार्जिंग में 150 किमी. की तय करेगी दूरी

भारत में अब Maruti Suzuki और Wagon R जैसी कार में इलेक्ट्रिक मोटर लगा सकेंगे। तेलंगाना टुडे में प्रकाशित खबर के मुताबिक कार को एक बार की चार्जिंग में 150 किमीं. तक चलाया जा सकता है। कंपनी के मानें तो इसे पूरी सेफ्टी स्टैंडर्ड के साथ तैयार किया गया है। इस इलेक्ट्रिक कार को किसी समय भी चार्ज किया जा सकेगा। साथ ही इसके मेंटीनेंस पर पेट्रोल कार की तुलना में कम खर्च आएगा। 

 

भारत की बनीं पहली ऐसी कंपनी

E Trio कंपनी में इलेक्ट्रिक किट लगवाने का ऑप्शन देती है। यह भारत की पहली ऐसी कंपनी हैं, जिसे भारत सरकार की तरफ से इस काम को करने की इजाजत दी गई है। कंपनी को सरकारी ऑटोमोटिव रिसर्च एसोसिएशन ऑफ इंडिया की तरफ अप्रूवल मिला है। कंपनी का दावा है कि वो उसके पास हर माह 1500 ऐसी कारें तैयार करने की क्षमता है, जिसमें इलेक्ट्रिक मोटर और बैटरी किट लगाई जा सकेगी। 

 

आगे पढ़ें- चीन और जापान से आएगी इलेक्ट्रिक किट

चीन और जापान से आएगी इलेक्ट्रिक किट

इस रेट्रोफिटेड इलेक्ट्रिक किट को चीन और साउथ कोरिया से मगाया जाएगा, जबकि इसके कंट्रोलर को कंपनी खुद बनाएगी। कंपनी इस तरह की कार को बनाने के लिए पिछले दो साल से टेस्टिंग कर रही थी। E Trio स्टार्टअप बेसड कंपनी इलेक्ट्रिक किट किफायदी और ज्यादा इफेक्टिव बनाने के साथ ही बैटरी चार्जिंग टाइम को 25 मिनट करने पर काम कर रही है।  इस मामले में उसकी जापानी और थाई कार मेकर से बातचीत चल रही है। 

 

आगे पढ़ें- प्रदूषण फ्री इंडिया बनाने पर जोर 

 

प्रदूषण फ्री इंडिया बनाने पर जोर 

स्टार्टअप बेस्ड कंपनी E Trio के फाउंडर सत्या का कहना है कि उनकी बनाई रेट्रोफिटिंग कार अन्य इलेक्ट्रिक कारों से कहीं ज्यादा इकोनॉमिकल होगी। सत्या भारत को प्रदूषण फ्री बनाने का सपना देख रहे हैं। इसके लिए उनकी कंपनी कम कीमत पर इलेक्ट्रिक मोबिलिटी बढ़ाने पर काम कर रही है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट