Home » Industry » Autojawa bike launch

स्कूल की एक लड़की को देखा तो जावा को जाना, जुड़ी हैं कई यादें: आनंद महिंद्रा

अब लॉन्च कीं उसी कंपनी की तीन बाइक

1 of

सौरभ कुमार वर्मा

महिंद्रा समूह के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने जावा बाइक की लॉन्चिंग के वक्त एक दिलचस्प जानकारी दी। उन्होंने बताया कि वो ऊंटी के लॉरेंस स्कूल में थे, जिसे लाउरे के नाम से जाना जाता था। वहां एक लड़की की काफी चर्चा हुआ करती थी, जिसका नाम मोर्मिनी ईरानी था। ऐसे में आनंद महिंद्रा ने लड़की के बारे में पता लगाया, तो पता चला उस लड़की की चर्चा की वजह उसका आइडियल जावा फैमिली से आना था। आनंद महिंद्रा ने बताया कि वह पहला मौका था, जब उन्हें जावा के बारे में पता चला। उस वक्त तक महिंद्रा एक बड़ा ब्रांड नहीं हुआ करता था। 

 

कौन हैं मोर्मिनी ईरानी
मोर्मिनी ईरानी, आइडल जावा के ओनर बोमन ईरानी की बहन थी, जिनके परिवार के पास आइडियल जावा का कानूनी अधिकार है। वही बोमन ईरानी जो अब आनंद महिंद्रा के साथ मिलकर इस बाइक को बना रहे हैं। तभी आनंद महिंद्रा का जावा के प्रति क्रेज जगा था और इसी वजह से आज आनंद महिंद्रा जावा बाइक को दोबारा से लॉन्च कर रहे हैं। आनंद महिंद्रा के मुताबिक इस बाइक के साथ उनकी कई सारी यादें जुड़ी हैं।   

 

आगे पढ़ें- कैसे जावा बना इंडियन ब्रांड

 

 

कैसे जावा बनीं इंडियन ब्रांड
दरअसल जावा एक चेको- स्लोवाकिया का ब्रांड था। इस ब्रांड की पहली मोटरसाइकिल को भारत में 1961 में लॉन्च किया गया। यह 253 टाइप टू स्ट्रोक बाइक थी। हालांकि भारत सरकार की ओर से बाइक के आयात पर प्रतिबंध लगा दिया गया।

 

आगे पढ़ें- मैसूर के राजा क्या था रोल

 

 

मैसूर के राजा का क्या था रोल

ईरानी फैमिली ने वर्ष 1971 में भारत में बाइक बनाने के कानूनी हक को हासिल किया और मैसूर के राजा के साथ मिलकर इसकी मैन्यूफैक्चरिंग शुरू की और इसे ब्रैंड न्यू Yezdi नाम से भारत में लॉन्च किया।  हालांकि भारत में कड़े इमीशन नाॅर्म्स के चलते इसका प्रोडक्शन 1996 में बंद कर दिया गया। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट