• Home
  • Govt to link 400 mandis on electronic trade platform this mth

इस महीने 400 मंडियों को इलेक्‍ट्रोनिक ट्रेड प्‍लैटफॉर्म से किया जाएगा लिंक, किसानों को मिलेंगे उचित दाम

Moneybhaskar

Mar 15,2017 07:07:00 PM IST
नई दिल्‍ली। केंद्र सरकार इस महीने 400 होलसेल मंडियों को इलेक्‍ट्रोनिक ट्रेड प्‍लैटफॉर्म से लिंक करेगी। किसानों को उनकी फसल का सही दाम देने के लिए 585 में से इन 400 मंडियों को इलेक्‍ट्रोनिक नेशनल एग्रीकल्‍चर मार्केट (ई-एनएएम) से लिंक किया जाएगा। बाकी मंडियों को अगले मार्च तक लिंक किया जाएगा। एग्रीकल्‍चर मिनिस्‍टर राधा मोहन सिंह ने बुधवार को इसकी जानकारी दी।
सरकार का फोकस एग्रीकल्‍चर इनपुट बढ़ाने पर
तीन दिवसीय कृषि उन्‍नति मेले के इनोग्रेशन के मौके पर एग्रीकल्‍चर मिनिस्‍टर राधा मोहन सिंह ने कहा कि सरकार का फोकस एग्रीकल्‍चर आउटपुट बढ़ाने और प्रोडक्‍शन कॉस्‍ट घटाने पर है, ताकि 2022 तक किसानों की इनकम डबल की जा सके। उन्‍होंने कहा कि भारत इस साल 2.2 करोड़ टन दाल का प्रोडक्‍शन करेगा। अगले 2 से 3 सालों के भीतर देश इस फील्‍ड में आत्‍म निर्भर बन जाएगा। दालों के लिए मौजूदा डिमांड 2.5 करोड़ टन है।
पिछले साल शुरू हुआ ये प्‍लैटफॉर्म
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले साल अप्रैल में ई-एनएएम प्‍लैटफॉर्म की शुरुआत पायलट प्रोजेक्‍ट के तौर पर की थी। तब इसके साथ 8 राज्‍यों से 22 मंडियों को लिंक किया गया था। पिछले साल सितंबर तक 250 मंडियों को इस प्‍लैटफॉर्म से लिंक किया गया था।
किसानों की आय बढ़ाना है लक्ष्‍य
सरकार ने ई-एनएएम प्‍लैटफॉर्म पर होलसेल मार्केट शुरू किया है। इस प्‍लैटफॉर्म के जरिए देशभर के किसान उचित मूल्‍य पर अपना प्रोडक्‍ट बेच सकते हैं। सिंह ने इनोग्रेशन के मौके पर कहा कि किसानों की आय बढ़ाने के लिए दूसरी हरित क्रांति की जरूरत है। उन्‍होंने कहा कि पिछले तीन सालों में केंद्र सरकार ने किसानों की खातिर कई योजनाएं शुरू की हैं।
X

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.