विज्ञापन
Home » Industry » Agri-BizBaba Ramdev : Patanjali university in China

बाबा रामदेव की चीन में एंट्री, इस यूनिवर्सिटी के साथ किया बड़ा समझौता

चीन में पतंजलि ने किया एक बड़ा धमाका, आचार्य बालकिशन ने दी जानकारी

1 of

नई दिल्ली. बाबा रामदेव ने चीन में एंट्री कर ली है। उनके संस्थान पतंजलि ने चीन में कई कंपनियों और एक विश्व विवश्वविद्यालय के साथ समझौता किया। आचार्य बाल कृष्ण ने अपने फेसबुक व टि्वटर अकाउंट पर इस आशय की जानकारी दी । 

 

क्या हुआ समझौता 
बालकृष्ण ने अपनी फेसबुक पोस्ट में बताया है कि पतंजलि विश्वविद्यालय व Jiangxi University of Traditional Chinese Medicine ने समझौता किया है।  दोनों के बीच मेडिसन के क्षेत्र में की गई रिसर्च आपस में शेयर की जाएगी। 

 

क्या करती है चीन की यूनिवर्सिटी 
आचार्य के मुताबिक,  यह University चीन की सबसे बड़ी Traditional Chinese Medical system यूनिवर्सिटी है जहाँ 20 हज़ार से ज़्यादा छात्र-छात्राएँ शिक्षा ग्रहण करते हैं तथा यह Chinese मेडिकल system की सबसे बड़ी संस्था है। यहाँ सभी प्रकार की दवाईयाँ बनायी जाती हैं और पेड़- पौधों पर आधारित चायनीज़ दवाओं का भी निर्माण होता है। 

 

ये कार्यक्रम भी होंगे 
MOU के तहत इस यूनिवर्सिटी द्वारा जितना भी अनुसंधान का कार्य हुआ है उसका पतंजलि विश्वविद्यालय के साथ आदान-प्रदान किया जाएगा। साथ ही स्टूडेंट एक्सचेंज प्रोग्राम, अनुसंधान कार्यक्रम, प्रकाशन आदि किया जाएगा। 

 

इनसे भी हुआ समझौता 
बालकृष्ण ने इसे भारतवर्ष एवं भारतीय संस्कृति के लिए गौरव का क्षण बताते हुए कहा है कि चीन के Hebei Province के Nandagang में Administrative Committe of Nandagang Industrial Park व पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड, भारत व दो अन्य संस्थाओं के बीच MOU पर हस्ताक्षर किए गए, जिसके तहत यहाँ की सरकार ने भारतवर्ष की कला जिसके तहत यहाँ की सरकार ने भारतवर्ष की कला,संस्कृति, परंपरा,योग,आयुर्वेद अनुसंधान, जड़ी-बूटी अन्वेषण, योग- केंद्र , टूरिज्म, आईटी, शिक्षा, मीडिया आदि गतिविधियों के लिए कार्य करने हेतु स्वीकृति दी तथा सभी संसाधन उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया |

 

गवर्नर से की मुलाकात 
इससे पहले आचार्य बालकृष्ण ने चीन में बीजिंग के निकट Harvey County में वहाँ के गवर्नर के साथ भव्य भेंटवार्ता हुई इस अवसर पर उनके साथ अन्य वरिष्ठ जन भी उपस्थित थे| 

 

आगे पढ़ें .... 

ये कार्यक्रम भी होंगे 
MOU के तहत इस यूनिवर्सिटी द्वारा जितना भी अनुसंधान का कार्य हुआ है उसका पतंजलि विश्वविद्यालय के साथ आदान-प्रदान किया जाएगा। साथ ही स्टूडेंट एक्सचेंज प्रोग्राम, अनुसंधान कार्यक्रम, प्रकाशन आदि किया जाएगा। 

 

आगे पढ़ें ... 

बालकृष्ण का स्वागत 

 

चीन पहुंचने पर आचार्य बालकृष्ण का Jiangxi University of Traditional Chinese Medicine के Party Sect. Prof. Chen Mingren व उनके साथियों ने भव्य स्वागत किया। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन