Home » Industry » Agri-BizFish nursery can fetch you rs 50000 per month

फि‍श नर्सरी से हर महीने कमाएं 50,000, जानें इसका पूरा गणि‍त

मछलीपालन काफी आसान है और यह आपका काफी कम समय व देखभाल मांगता है।

1 of

नई दि‍ल्‍ली। परंपरागत खेती नहीं करना चाहते या फि‍र कम वक्‍त लेने वाला एग्रीकल्‍चर से जुड़ा कोई काम करना चाहते हैं तो आप मछलीपालन के बारे में सोच सकते हैं। मछलीपालन काफी आसान है और यह आपका काफी कम समय व देखभाल मांगता है। इसमें भी परंपरागत मछलीपालन की बजाए अगर आप फि‍श नर्सरी का काम शुरू कर दें तो आप सालभर में तीन बार अच्‍छी कमाई कर सकते हैं।

कमाई कि‍तनी करेंगे ये आपके तलाब के साइज पर डि‍पेंड करता है। मछली को बड़ा करके बेचने की बजाए नर्सरी बनाकर बच्‍चे बेचने में ज्‍यादा फायदा है, मछली के बच्‍चे एक रुपए से 3 रुपए के बीच में बिकते हैं। इस बि‍जनेस में कई ऐसे फैक्‍टर हैं जो अगर आपके साथ हैं तो आपकी लागत कई गुना कम हो सकती है। फि‍र इसमें अन्‍य एग्री बि‍जनेस के मुकाबले समय कम देना होता है क्‍योंकि‍ इसमें देखभाल की जरूरत बहुत ज्‍यादा नहीं होती, हां बस थोड़ी सुरक्षा का ध्‍यान रखना होता है। देश में मछलीपालन बहुत तेजी से बढ़ रहा है।  हम आपको इस बि‍जनेस का पूरा गणि‍त बता रहे हैं।  आगे पढ़ें 

सबसे पहले तो इसका गणि‍त समझ लें
राजस्‍थान के बि‍जयनगर स्‍थि‍त दीपक फि‍श एंड फि‍श सीड्स के ओनर राजेश कुमार अर्जि‍या के मुताबि‍क, अगर आप एक बीघा जमीन में तलाब बनाते हैं तो उसमें 3 लाख तक बच्‍चे (इन्‍हें सीड्स भी कहते हैं) छोड़ सकते हैं। इन्‍हें आपको दो से तीन महीने रखना होगा। इतने समय में इनका वजन 20 से 30 ग्राम हो जाएगा। इसमें से अगर आप 50% भी बच्‍चों के मरने की दर मान लेते हैं तो आपके पास बचे 1.5 लाख बच्‍चे। 
अगर कोई आपके पास आकर बच्‍चे खरीदता है तो 1 बच्‍चा एक रुपए में आमतौर पर बि‍कता है। अगर आप मछलीपालन करने वाले के तलाब तक मछलि‍यां छोड़कर आते हैं तो एक बच्‍चे की कीमत तकरीब 3 रुपए होती है।  आगे पढ़ें 

 

इतनी हो सकती है कमाई 
इस हि‍साब से देखें तो आप तीन महीने में 1.5 लाख से लेकर 4.5 लाख रुपए तक बना सकते हैं। आप एक साल में तीन से 4 बार बच्‍चे बेच सकते हैं। इसमें से आपकी लागत 30 % के आसपास रहेगी। हालांकि‍ इसमें भी एक और फायदेमंद गणि‍त है जो हम आपको आगे बताएंगे।  
आपको 3 लाख बीज करीब 15000 रुपए में मि‍लेंगे। शुरू में आपको हर दि‍न केवल एक से दो कि‍लो चारा डालना होता है। तीसरे महीने में आपको हर दि‍न करीब 10 कि‍लो चारा डालना होता है।   आगे पढ़ें कैसे बढ़ सकता है मुनाफा 

 

कि‍न्‍हें करना चाहि‍ए ये बि‍जनेस 


राजेश के मुताबि‍क, यह बि‍जनेस ऐसे लोगों के लि‍ए सबसे मुफीद है जि‍नकी जमीन नि‍चले या ढाल वाले इलाको में है। इसके अलावा अगर आपकी जमीन कि‍सी नहर या नदी के पास है तो ऐसे लोगों के लि‍ए भी मछली का बि‍जनेस ठीक रहता है, क्‍योंकि‍ साल में कम से एक बार तो पानी आपको नेचुरल तरीके से मि‍ल जाएगा। इसके अलावा सबसे अच्‍छा ये रहेगा कि‍ आप गांव के सरपंच से लि‍खि‍त अनुमति‍ लेकर गांव के तलाब या गढ़ही में मछलीपालन करें। इस तरह के तलाबों में प्‍लेक्‍टोन की मात्रा बहुत ज्‍यादा होती है और मछलि‍यों के खाने का भरपूर इंतजाम हो जाता है। हालांकि‍ इन सबके अलावा अगर आपके पास जमीन है और पानी का इंतजाम है तो आप मछलीपालन से कमाई कर सकते हैं। अगर आपको ग्राम समाज की जमीन मि‍ल गई तो लागत कई गुना नीचे आ जाती है। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट