विज्ञापन
Home » Industry » Agri-BizHow to do sericulture, expenses and profit

एक बार 2.30 लाख लगा कर हर साल कमा सकते हैं 3 लाख तक, रेशम की खेती होगी फायदेमंद

देश में रेशम की डिमांड काफी ज्यादा है।

1 of

नई दिल्ली.

रेशम की खेती ऐसा व्यवसाय है जिसमें किसान काफी अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। दुनिया के कुल कच्चे रेशम में से 14 फीसदी भारत में उत्पादित होता है। रेशम की चारों वैराइटी उत्पादित करने के कारण दुनिया में भारत का अलग स्थान है। खास ही नहीं आम लोगों के बीच भी सिल्क के परिधान काफी डिमांड में रहते हैं। यही वजह है कि बड़ी संख्या में किसान इस खेती से जुड़ रहे हैं। इस खेती को Sericulture कहा जाता है और इसमें काफी मुनाफा कमाया जा सकता है। इसमें आपको एक बार 2.30 लाख्र पए खर्च करने होंगे जबकि हर साल 3 लाख या उससे भी ज्यादा मुनाफा कमाया जा सकेगा। 

 

ऐसे कर सकते हैं खेती

इस खेती में सिल्कवर्म यानी रेशम के कीड़ों को पाला जाता है और मल्बरी यानी शहतूत के पौधों को उगाया जाता है। रेशम के कीड़े इसी पेड़ के पत्तों को खाकर रेशम बनाते हैं। रेशम के कीड़े पालने के लिए आपको 1200 से 1400 वर्ग मीटर के शेड की जरूरत पड़ेगी। इसके साथ ही आपको तकरीबन एक एकड़ जमीन में शहतूत के पेड़ लगाने होंगे। एक बार में आप तकरीबन इन कीड़ों के 200 अंडे रख सकते हैं। एक साल में दस बार अंडे रखे जा सकते हैं। यानी एक साल में दस बैच में रेशम निकल सकता है।

 

आगे पढ़ें- आएगा इतना खर्च

 

 

इतना आएगा खर्च

रेशम के कीड़े पालने में शेड बनानेनेट खरीदने और मेहनताना मिलाकर लगभग 1.50 लाख रुपए का खर्च आए। शहतूत की खेती में आपको खादपानीपौधे सब मिलाकर तकरीबन 20 हजार रुपए खर्च करने होंगे। यह खर्च एक बार का है। इसके बाद रेशम के कीड़ों के अंड़ों के प्रबंधन में आपको 60 हजार और खर्च करने पड़ेंगे। यानी शुरुआत में आपको लगभग 2.30 लाख रुपए खर्च करने पड़ेंगे। इसके बाद आपको सिर्फ 60 हजार रुपए सालाना खर्च करने होंगे।

 

आगे पढ़ेंहोगी इतनी कमाई

 

 

होगी इतनी कमाई

10 अंड़ों में से आप को किग्रा रेशम मिलेगा। एक साल में आपको एक शेड में से दस बैच में 2000 अंड़े मिलेंगे। बाजार में रेशम के कीड़े के एक कुकून का दाम 130 से 150 रुपए प्रति किलाे है। ऐसे में आप 2000 अंड़ों से 2.6 लाख से लाख रुपए कमा सकते हैं। साल के 60 हजार खर्च को हटाने के बाद आपको से 2.5 लाख की आय हो सकती है। यह सिर्फ शुरुआती अनुमान है। धीरे-धीरे पेड़ों के बड़ो होने के साथ आप रेशम के कीड़ों की संख्या भी बढ़ा सकते हैं।

 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss