Home » Industry » Agri-Bizसरकार चीनी से एक्‍सपोर्ट ड्यूटी हटाने पर कर रही विचार -Govt mulls scrapping export duty on sugar

चीनी पर खत्‍म हो सकती है एक्‍सपोर्ट ड्यूटी, सरकार ने दिए संकेत

केन्‍द्र सरकार चीनी से एक्‍सपोर्ट ड्यूटी हटाने पर विचार कर रही है।

1 of

नई दिल्‍ली. केन्‍द्र सरकार चीनी से एक्‍सपोर्ट ड्यूटी हटाने पर विचार कर रही है। ऐसा चीनी उत्‍पादन में बढ़ोत्‍तरी के अनुमान और गिरती घरेलू कीमतों को ध्‍यान में रखकर किया जा रहा है। यह बात फूड एंड कंज्‍यूमर अफेयर्स मिनिस्‍टर रामविलास पासवान ने कही है। अभी चीनी पर 20 फीसदी एक्‍सपोर्ट ड्यूटी लगती है। 

 

इस सीजन कितने उत्‍पादन का अनुमान 

पासवान ने कहा कि चीनी सीजन 2017-18 (अक्‍टूबर-नवंबर) में चीनी का उत्‍पादन बढ़कर लगभग 2.49 करोड़ टन हो जाने का अनुमान है। 2016-17 सीजन में यह उत्‍पादन 2.02 करोड़ टन था। इंडस्‍ट्री  ने चीनी उत्‍पादन 2.6 करोड़ टन आंका है और सरकार चीनी उत्‍पादक राज्‍यों से मिले इनपुट के आधार पर अपने अनुमान की समीक्षा करेगी। चीनी की डॉमेस्टिक डिमांड की बात करें तो यह 2.4-2.5 करोड़ टन सालाना है। 

 

मिलों पर भी लगाए हैं कुछ प्रतिबंध 

मंत्री ने आगे कहा कि चीनी उत्‍पादन में वृद्धि को ध्यान में रखते हुए सरकार ने पहले ही चीनी पर इंपोर्ट ड्यूटी को बढ़ाकर 100 फीसदी यानी दोगुना कर दिया है। ऐसा इसलिए ताकि ताकि बाहर के देशों, खासकर पाकिस्‍तान से सस्‍ते चीनी इंपोर्ट पर लगाम लगाई जा सके। उन्‍होंने यह भी कहा कि सरकार ने दो महीने के लिए चीनी की घरेलू बिक्री को लेकर मिलों पर भी कुछ मात्रात्‍मक प्रतिबंध लगाए हैं। 

 

शुगर इंडस्‍ट्री ने की थी इंपोर्ट ड्यूटी बढ़ाने और एक्‍सपोर्ट ड्यूटी घटाने की मांग 

चीनी की कीमतें उत्‍पादन लागत से भी कम हो जाने को लेकर इंडियन शुगर मिल्‍स एसोसिएशन (ISMA) और नेशनल फेडरेशन ऑफ को-ऑपरेटिव शुगर फैक्‍ट्रीज (NFCSF) ने पिछले माह खाद्य मंत्रालय के सीनियर अधिकारियों से मुलाकात की थी। उन्‍होंने चीनी पर इंपोर्ट ड्यूटी 50 फीसदी से बढ़ाकर 100 फीसदी करने और 20 फीसदी की एक्‍सपोर्ट ड्यूटी हटाए जाने की मांग की थी। 

 

यह भी पढ़ें- सरकार ने चीनी पर दोगुनी की इंपोर्ट ड्यूटी, मिलों और किसानों को होगा फायदा

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट