Trending News Alerts

ट्रेंडिंग न्यूज़ अलर्ट

    Home »Personal Finance »Experts» Mutual Fund Offers Better Investment Option Amid Sharp Volatility In Stock Market

    मार्केट में उतार-चढ़ाव के बीच म्‍युचुअल फंड बेहतर ऑपशन

    मार्केट में उतार-चढ़ाव के बीच म्‍युचुअल फंड बेहतर ऑपशन
    नई दिल्‍ली।शेयर मार्केट में उतार-चढ़ाव के बीच इन्‍वेस्‍टर के पास म्‍युचुअल फंड में इन्‍वेस्‍ट करने का बेहतर विकल्‍प मौजूद है। ऐसे में इन्‍वेस्‍टर के पास अवसर है कि वह इक्विटी मार्केट में इन्‍वेस्‍ट करके ज्‍यादा लाभ उठा सकें। शेयर मार्केट में सीधे इन्‍वेस्‍ट करने की बजाय यदि इन्‍वेस्‍टर म्‍युचुअल फंड में इन्‍वेस्‍ट करते हैं तो उन्‍हें ज्‍यादा लाभ मिल सकता है। जिसको हम इस उदाहरण के जरिए समझ सकते हैं। जिसमें इन्‍वेस्‍टर ने 8 अप्रैल, 2013 को 10 लाख रुपए का इन्‍वेस्‍ट किया जो बढ़कर 30 जून, 2015 को 13,94,790 रुपए हो गए। यानी इन्‍वेस्‍टर की पूंजी 2 साल से थोड़े अधिक समय में 3,94,790 रुपए बढ़ गए और इसी दौरान उसको आकर्षक डेविडेंट के रूप में 163827 रुपए भी प्राप्‍त हुए।
     
    दरअसल आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल बैलेंस्‍ड एडवांटेज फंड के इस बेहतर प्रदर्शन की वजह कई तरह की स्‍ट्रैटजी को अमल में लाने का ही परिणाम है। इसके अलावा इस स्‍कीम के तहत मासिक डिविडेंड विकल्‍प की व्‍यवस्‍था किए जाने के बाद इन्‍वेस्‍टर को हर महीने डिविडेंड भी दिया जाता है। इस स्‍कीम के अंतर्गत इन्‍वेस्‍टर के पास मासिक डेविडेंट लेने के अलावा डिविडेंड पेमेंट लेने का अन्‍य विकल्‍प भी मौजूद हैं। साथ ही बाजार के नीचे जाने पर भी अपनी रणनीति की वजह से नियमित बैलेंस्‍ड फंड की तुलना में यह फंड कम जोखिम भरा हुआ है।
     
    क्‍या है बैलेंस्‍ड एडवांटेज फंड
     
    आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल बैलेंस्‍ड एडवांटेज फंड पूर्व का प्रूडेंशियल इक्विटी फंड है। दरअसल यह प्‍लान 30 दिसंबर, 2006 को आईसीआर्इसीआई प्रूडेंशियल एसेट मैनेजमेंट कंपनी ने लांच किया था। जहां 30 जून, 2015 तक इस प्‍लान का कुल एसेट साइज 6975 करोड़ रुपए रहा। वहीं, इस फंड की नेट इक्विटी आवंटन किसी भी बिंदु पर 30 फीसदी से 80 फीसदी के दायरे में रहता है। जबकि इसका सकल इक्विटी इन्‍वेस्‍ट हमेशा 65 फीसदी से ज्‍यादा रहता है। जिसकी वजह से इसकी नेट इक्विटी आवंटन सीमा कोष के उद्देश्यों को प्राप्त करने के लिए पूरी तरह से अनुकूल है। इसलिए ज्‍यादातर लोग इस बैलेंस्‍ड फंड का उपयोग टैक्‍स के लिए करते हैं। इस फंड में कम से कम 5 हजार रुपए तक का निवेश किया जा सकता है।
     
    बैलेंस्‍ड एडवांटेज फंड का आवंटन
     
    आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल बैलेंस्‍ड एडवांटेज फंड की मौजूदा पोर्टफोलियो में 66 फीसदी इन्‍वेस्‍ट इक्विटी में जबकि 34 फीसदी शेयरों को डेट में लगाया गया है। जबकि इक्विटी को जिन टॉप तीन सेक्‍टरों में लगाया गया है उनमें फाइनेंशियल, एनर्जी और टेक्‍नोलॉजी प्रमुख है। जिसमें इनका योगदान क्रमश: 13 फीसदी, 8 फीसदी और 6 फीसदी है। जबकि डेट के मामले में ज्‍यादातर इन्‍वेस्‍ट सरकारी प्रतिभूतियों में किया जाता है।
     
    बैलेंस्‍ड एडवांटेज फंड का प्रदर्शन
     
    आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल बैलेंस्‍ड एडवांटेज फंड का मकसद मार्केट में निहित अस्थि‍रता से इन्‍वेस्‍टर की रक्षा करना है। जिसको इक्विटी, डेरिवेटिव और डेट बाजार में सावधानी पूवर्क इन्‍वेस्‍ट करके हासिल किया जाता है। यह फंड क्रिसिल बैलेंस्‍ड फंड इंडेक्‍स के मुकाबले में बेंचमार्क है। पिछले एक साल के दौरान इस फंड का ग्रोथ रेट 17.66 फीसदी रहा है। जबकि पिछले तीन साल के दौरान इसका कंपाउड एन्‍यूअल ग्रोथ रेट (सीएजीआर) 20.38 फीसदी रहा है और पांच साल के दौरान 14.66 फीसदी रहा है। वहीं, इस स्‍कीम का प्रदर्शन भी बेंचमार्क से बेहतर रहा है। साथ ही आईसीआर्इसीआई बैलेंस्‍ड एडवांटेज फंड इस प्रकार की अन्‍य फंड के मुकाबले में कम जोखिम भरा है।
     
    इसमें क्‍यों करना चाहिए इन्‍वेस्‍ट
     
    दरअसल आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल बैलेंस्‍ड एडवांटेज का मकसद इन्‍वेस्‍टर के कैपिटल को सुरक्षा प्रदान करने के साथ लंबी अवधि तक फायदा पहुंचाना है। जबकि इस फंड का जो उद्देश्‍य है उसमें लंबे समय से इसका प्रदर्शन बेहतर रहा है। इसका कारण इस फंड का बड़े शेयरों और सरकारी प्रतिभूतियों में इन्‍वेस्‍ट से रहा है। इस फंड में इन्‍वेस्‍ट का उद्देश्य पूरी तरह से अलग है। इसलिए इस फंड से मिलने वाले रिटर्न को नेट इक्विटी फंड से तुलना नहीं की जानी चाहिए। इन्‍हीं सब वजह से आईसीआर्इसीआई प्रूडेंशियल बैलेंस्‍ड एडवांटेज फंड एक बेहतरीन और गतिशील एसेट आवंटन की श्रेणी में है। जिसकी वजह से इसको प्रत्‍येक इन्‍वेस्‍टर के पोर्टफोलियो का हिस्‍सा होना चाहिए।
     
    लेखक पंकज मथपाल ऑप्टिमा मनी मैनेजर प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के सीईओ और फाइनेंशियल प्‍लानर हैं।   

    Recommendation

      Don't Miss

      NEXT STORY