Trending News Alerts

ट्रेंडिंग न्यूज़ अलर्ट

    Home »Personal Finance »Experts» Mixed Bag For Real Estate Sector From Budget

    रियल्टी सेक्टर पर बजट का दूरगामी प्रभाव होगा

    रियल्टी सेक्टर पर बजट का दूरगामी प्रभाव होगा
    भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था में गति देने के लिए वित्‍त मंत्री द्वारा ठोस कदम उठाने की दरकार थी। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बजट में मौजूदा समय की मांग के अनुरुप कदम उठाया हैं। वित्‍त मंत्री द्वारा किए गए बजट घोषणाओं का दूरगामी प्रभाव भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था और रियल्टी सेक्टर पर होगा। जीडीपी को दोहरे अंक में पहुंचाने और विकास को रफ्तार देने में बजट घोषणाओं का असर आने वाले समय में दिखाई देगा।
     
    वित्त मंत्री ने बजट में 2022 तक देश के सभी परिवार को घर देने के लक्ष्य तय किया है। घरों की जरूरत को पूरा करने के लिए 6 करोड़ नए घरों का निर्माण किया जाएगा। 6 करोड़ नए घर के निर्माण होने का मतलब है कि हाउसिंग सेक्टर को बड़ा बूस्ट मिलेगा। सरकार ग्रामीण इलाकों और शहरी क्षेत्रों में घरों की मांग को पूरा करेगी। यानि, शहरों के अलावा ग्रामीण इलाकों में भी डेवलपर के लिए अवसर होंगे। सरकार ग्रामीण क्षेत्रों में इंफ्रास्ट्रक्चर को बेहतर बनाने का प्रस्‍ताव किया है। इससे भी हाउसिंग सेक्टर को फायदा मिलेगा। यह बजट रियल्टी सेक्टर की मांग को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है। बजट सामाजिक और आर्थिक संतुलन प्रदान करेगा।  
     
    बजट में घाोषित प्रमुख बातें जो डेवलपर और खरीददार दोनों के हित में हैं, इस प्रकार हैं:
     
    • अल्‍टरनेटिव इनवेस्टमेंट फंड में विदेशी निवेश की अनुमति मिलने से रियल एस्टेट सेक्टर, प्राइवेट इक्विटी और हेज फंड में निवेश बढ़ेगा।
     
    • रिट्स रेंटल पर टैक्‍स फ्री किया गया है। इससे रिट्स के जरिए रियल्टी को ज्‍यादा निवेश प्राप्‍त होगा।
     
    • इनकम टैक्‍स की धारा 80सी, 80डीडीबी और 80डी के जरिए टैक्‍स छूट की सीमा बढ़ाई गई है। इससे आम आदमी अधिक पैसा बचा पाएगा। आम लोगों की क्रय क्षमता बढ़ेगी।
     
    • सरकार ने 6 करोड़ घरों का निर्माण 2022 तक करने का लक्ष्य बनाया है। सरकार ने इंफ्रा फंड 20,000 करोड़ रुपए की बनाई है। 70,000 करोड़ इंफ्रास्ट्रक्चर में निवेश किया जाएगा। यह रियल्टी सेक्टर को गति देने में सहयोग करेगा।
     
    • ग्रामीण इंफ्रा के विकास के लिए सरकार ने 25,000 करोड़ रुपए अलॉट किया गया है। यह एक अच्‍छा कदम हैं। गांवों के विकास होने से लोगों की आय बढ़ेगी। इससे उनकी क्रय क्षमता में इजाफा होगा। यह अर्थव्‍यवस्‍था के लिए भी सहायक होगा। 

    Recommendation

      Don't Miss

      NEXT STORY