Trending News Alerts

ट्रेंडिंग न्यूज़ अलर्ट

    Home »Economy »Taxation» Tax Office Summons And Appear Before It In Person Or By An Authorised Agent On Feb16

    सर्विस टैक्‍स डिपार्टमेंट ने सानिया मिर्जा को भेजा 20 लाख का टैक्‍स नोटिस, 16 फरवरी तक पेश होने को कहा

    हैदराबाद. भारत की स्टार टेनिस प्‍लेयर सानिया मिर्जा को सर्विस टैक्‍स डिपार्टमेंट ने टैक्स भुगतान न करने या सर्विस टैक्स की चोरी करने के आरोप में नोटिस भेजा है। सर्विस टैक्‍स ऑफिस के प्रिंसिपल कमीशनर ने 6 फरवरी को सानिया मिर्जा के खिलाफ नोटिस जारी किया है। नोटिस में कहा गया है कि सानिया को व्यक्तिगत तौर पर या किसी अधिकृत एजेंट के माध्यम से 16 फरवरी को सर्विस टैक्‍स ऑफिस के समक्ष उपस्थित होना होगा। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, सानिया मिर्जा पर 20 लाख रुपए का टैक्स बकाया है।
     
    नोटिस में क्‍या है?
    - नोटिस में कहा गया है कि फाइनेंस एक्‍ट, 1994 के प्रावधानों और वहां बनाए गए नियमों के संबंध में सर्विस टैक्‍स के नॉन पेमेंट या टैक्‍स चोरी को लेकर आपके खिलाफ जांच के संबंध में पूछताछ की जानी है। डिपार्टमेंट के पास यह विश्वास करने का कारण है कि आपके पास इस जांच से जुड़े तथ्य या और डॉक्‍यूमेंट हैं।
    - सानिया मिर्जा को भेजे गए समन में कहा गया है, ''सेंट्रल एक्साइज एक्ट 1944 के सर्विस टैक्स मामलों के तहत फाइनेंस एक्ट 1994 के आधार पर आपको समन भेजा जा रहा है। 16 फरवरी को आपको पेश होना होगा। इसके लिए जरूरी दस्तावेज और तथ्य भी पेश करने होंगे।''
    - सर्विस टैक्स कमिश्नर की ओर से भेजे गए समन में आगे कहा गया, ''मुझे उम्मीद है कि आपके पास ऐसे दस्तावेज या तथ्य हैं जो जांच के लिए अहम हैं।''
     
    किस मामले में भेजा नोटिस
    - सर्विस टैक्‍स डिपार्टमेंट की ओर से सानिया मिर्जा को यह नोटिस तेलंगाना सरकार के ब्रांड एम्‍बेस्‍डर के रूप में मिले 1 करोड़ रुपए पर सर्विस टैक्‍स नहीं देने के मामले में भेजा गया है।
    - 22 जुलाई 2014 को तेलंगाना के मुख्‍यमंत्री चंद्रशेखर राव ने राज्‍य को प्रमोट करने के लिए सानिया मिजा को ब्रांड एम्‍बेस्‍डर बनाया और एक करोड़ रुपए का चेक दिया था। चंद्रशेखर राव ने यूएस ओपन मिस्‍ड डब्‍ल्‍ड टाइटल जितने पर रिवार्ड के रूप में 11 सितंबर 2014 को यह चेक मिर्जा को दिया था।
    - यूएस ओपन जिनते पर रिवार्ड मिलने पर यह नॉन टैक्‍सेबल है लेकिन टैक्‍स डिपार्टमेंट का कहना है कि सानिया मिर्जा को 20 लाख रुपए (एक करोड़ पर 15 फीसदी सर्विस टैक्‍स, फाइन और पेनल्‍टी) देना होगा। क्‍योंकि, मिर्जा ने यह रकम ब्रांड एम्‍बेस्‍डर के रूप में ली है।
     
    दर्ज हो सकता है क्रिमिनल केस
    - टेनिस स्टार को चेतावनी भी दी गई है कि अगर वह बिना किसी कानूनी वजह के समन में दी गई तारीख पर पेश नहीं होती हैं, या डॉम्‍यूमेंट और तथ्य नहीं पेश करतीं तो आईपीसी की संबंधित धाराओं के तहत उनके खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है।

    Recommendation

      Don't Miss

      NEXT STORY