Home » Economy » Taxationrestaurant bill gets cheaper from today as Govt reduces GST

आज से 211 आइटम पर घटे GST रेट लागू, रेस्टोरेंट में खाने से लेकर डेली यूज के प्रोडक्ट हुए सस्ते

जीएसटी की दरों में सरकार की ओर से किया गया बदलाव बुधवार से लागू हो रहा है। इसके तहत अब रेस्‍टोरेंट में 12 या 18 फीसदी न

1 of

 
 
नई दिल्‍ली. जीएसटी की दरों में सरकार की ओर से किया गया बदलाव बुधवार से लागू हो गया है। इसके तहत अब रेस्‍टोरेंट में  अब सिर्फ 5 फीसदी का टैक्‍स लगेगा। लोगों को पहले जहां एसी रेस्‍टोरेंट में 18 फीसदी जीएसटी देना होता था, जबकि नॉन एसी रेस्‍टोरेंट में 12 फीसदी का टैक्‍स देना होता था। इससे पहले जीएसटी काउंसिल ने 227 में से 177 चीजों को 28 फीसदी के सबसे हाई टैक्‍स स्‍लैब से बाहर कर दिया था। सरकार के इस कदम से आम लोगों राहत होगी। 
 
आज से जो अन्‍य चीजों पर टैक्‍स घट रहा है उसमें चॉकलेट, टूथपेस्ट, शैंपू, वॉशिंग पाउडर और शेविंग क्रीम जैसे कई प्रॉडक्ट्स शामिल हैं। राज्यों और केंद्र ने इस संबंध में नोटिफिकेशन जारी करने के साथ नए रेट्स मंगलवार आधी रात से लागू हो गए है। टैक्स एक्सपर्ट्स कहते है कि जीएसटी काउंसिल ने एक खास तारीख यानी 15 नवंबर से बदलाव लागू करने का निर्णय किया क्योंकि पहले के कुछ मामलों में विभिन्न राज्यों ने अलग-अलग तारीखों पर अधिसूचनाएं जारी की थीं।  हालांकि, समय की तंगी को देखते हुए अधिकतर कंपनियां प्रॉडक्ट्स के एमआरपी तुरंत नहीं घटा पाएंगी, लेकिन उन्होंने डीलरों और रिटेलरों से कहा है कि कीमतें कम की जानी चाहिए। 
 

सस्ते प्रोडक्ट के लिए करना पड़ सकता है इंतजार

फाइनेंस मिनिस्ट्री ने घटे जीएसटी रेट का नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। ऐसे में आज (बुधवार) से 211 प्रोडक्ट पर नया जीएसटी रेट लगेगा। हालांकि इसके बावजूद आपको नए रेट वाले प्रोडक्ट खरीदने में थोड़ा इंतजार करना पड़ सकता है। कंपनियों के अनुसार, नए रेट लागू होने के बाद प्रोडक्ट्स की मैन्युफैक्चरिंग और उस पर लगने वाले टैक्स नए रेट के आधार पर होगा। लेकिन इन प्रोडक्ट्स को कस्टमर तक पहुंचने में 10-15 दिन का समय लग सकता है। कंपनियों के अनुसार, अभी मार्केट में पहले से मौजूद प्रोडक्ट्स पर पुराना रेट ही लागू होगा। हालांकि, डिस्ट्रिब्यूटर से कंपनियां यह कह रही हैं कि नए रेट के आधार पर ही अपने प्रोडक्ट कस्टमर को सेल करें। हालांकि बिग बाजार ने आज से ही रेट में कटौती का ऐलान कर दिया है।

बिग बाजार ने घटाए आज से ही रेट

फ्यूचर ग्रुप के सीईओ किशोर बियानी ने moneybhaskar.com को बताया कि कंपनी ने आज से अपने कस्टमर को घटे जीएसटी रेट का फायदा देना शुरू कर दिया है। उनके अनुसार बिग बाजार में 15 नवंबर से ही घटे रेट पर प्रोडक्ट मिलेंगे। इसके लिए हम पुराने स्टॉक को भी नए रेट के आधार पर दे रहे हैं।

 

 

यहां 28% की जगह 18% टैक्स
इलेक्ट्रिक कंट्रोल, डिस्ट्रीब्यूशन के लिए इलेक्ट्रिक बोर्ड, पैनल, कंसोल, कैबिनेट, वायर, केबल, इंसुलेटेड कंडक्टर, इलेक्ट्रिक इंसुलेटर, इलेक्ट्रिक प्लग, स्विच, सॉकेट, फ्यूज, रिले, इलेक्ट्रिक कनेक्टर्स, ट्रक (लोहे की पेटी), सूटकेस, ब्रीफकेस, ट्रैवलिंग बैग, हैंडबैग, शैंपू, हेयर क्रीम, हेयर डाई, लैंप और लाइट फिटिंग के सामान, शेविंग के सामान, डियोड्रेंट, परफ्यूम, मेकअप के सामान, फैन, पंप्स, कंप्रेसर, प्लास्टिक के सामान, शॉवर, सिंक, वॉशबेसिन, सीट्स के सामान, प्लास्टिक के सेनेटरी वेयर, सभी प्रकार के सिरेमिक टाइल, रेजर और रेजर ब्लेड, बोर्ड, सीट्स जैसे प्लास्टिक के सामान, पार्टिकल/फाइबर बोर्ड, प्लाईवुड पर अब 18 फीसदी टैक्स देना होगा ।
 
एस्केलेटर, कूलिंग टॉवर, रेडियो और टेलीविजन प्रसारण के विद्युत उपकरण, साउंड रिकॉर्डिंग उपकरण, सभी प्रकार के संगीत उपकरण और उससे जुड़े सामान, कृत्रिम फूल, पत्ते और कृत्रिम फल, कोको बटर, वसा और तेल पाउडर, चॉकलेट, च्विंगम और बबलगम, रबर ट्यूब और रबर के बने तरह तरह के सामान, चश्में और दूरबीन।
 
इन प्रोडक्ट्स पर लगेगा अब 12% जीएसटी
मधुमेह रोगियों को दिया जाने वाला भोजन,प्रिंटिंग इंक, टोपी,कृषि, बागवानी, वानिकी, कटाई से जुड़ी मशीनरी के सामान, जूट, कॉटन के बने हैंड बैग और शॉपिंग बैग, रिफाइंड सुगर और सुगर क्यूब, गाढ़ा किया हुआ दूध, पास्ता और सिलाई मशीन के सामान पर अब 18 फीसदी की जगह 12 फीसदी टैक्स देना होगा।
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट