Trending News Alerts

ट्रेंडिंग न्यूज़ अलर्ट

    Home »Economy »Taxation» Traders Must Do These Five Things Before GST

    एक जुलाई से लागू हो रहा है GST, कर लें ये 5 काम नहीं तो बढ़ेगी परेशानी

    नई दिल्ली। अब एक जुलाई से गुड्स एंड सर्विस टैक्स लागू होने को तैयार है। ऐसे में अगले 40 दिनों में कारोबारियों को कई ऐसे काम करने लेने चाहिए, जो जीएसटी लागू होने से पहले करना जरूरी है। जिससे कि कारोबारियों को बाद में किसी तरह की दिक्कत न आए। आइए जानते हैं कि कौन से 5 कामों के लिए आपको जुलाई से पहले तैयारी कर लेनी चाहिए...
     
    होंगे ये नुकसान
     
    1 जीएसटी में अगर अभी तक रजिस्ट्रेशन  नहीं कराया है, तो आपके पास मौका। एक जून से रजिस्ट्रेशन की ऑनलाइन विंडो खुल रही है। जिस पर आप 15 जून तक रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे। अगर उस समय तक ऐसा नहीं करते हैं, तो  ट्रेडर्स और कारोबारियों को वैट व्यवस्था में बकाया  टैक्स क्रेडिट, इन्पुट क्रेडिट नहीं मिल पाएगा।
     
    2 अगर आपने GST में रजिस्ट्रेशन नहीं कराया तो करोबारियों और ट्रेडर्स को वैट रिफंड नहीं मिल पाएगा।
    3 रिटर्न फाइल करने से पहले आपको जीएसटी पर रजिस्ट्रेशन कराना होगा। बिना रजिस्ट्रेशन के टैक्स रिटर्न फाइन नहीं कर पाएंगे।
    4 अकाउंटिंग और सिस्टम को नए टैक्स रेट के साथ अपग्रेड करा लें। सरकार इसके लिए ऐप और सॉफ्टवेयर भी लाएगी जिसे कारोबारी डाउनलोड कर सकते हैं।
    5 कंपोजिट स्कीम का फायदा नहीं उठा पाएंगे।
     
    क्या है कम्‍पोजिट स्कीम  
    20 लाख रुपए से अधिक और 50 लाख रुपए तक के सालाना टर्नओवर वाले कारोबारी जीएसटी में आने वाली कम्‍पोजिट स्कीम का फायदा उठा सकते हैं। कम्‍पोजिट स्कीम के तहत टैक्स रेट कम है। इस स्कीम के तहत कारोबारियों को सिर्फ 2 फीसदी टैक्स चुकाना होगा।
     
    ये कारोबारी उठा सकते हैं फायदा
     
    इस स्कीम का फायदा रिटेलर, होलसेलर, रेस्त्रां कारोबारी, एमएसएमई, मैन्युफैक्चर उठा सकते हैं। अगर इन कारोबारियों का सालाना टर्नओवर 20 लाख रुपए से अधिक और 50 लाख रुपए तक है। जीएसटी में आपको सालाना 2 फीसदी की दर से टैक्स चुकाना होगा।
     
    अगली स्लाइड में जानें– कहां कराना होगा रजिस्ट्रेशन
     
     

    और देखने के लिए नीचे की स्लाइड क्लिक करें

    Recommendation

      Don't Miss

      NEXT STORY