Home »Economy »Taxation» Income Tax Department Sends Notice To Cobbler

नोटबंदी में मोची के खाते में जमा हुए 10 लाख, I-T वि‍भाग ने नोटि‍स भेज पूछा- कहां से आए पैसे

नोटबंदी में मोची के खाते में जमा हुए 10 लाख, I-T वि‍भाग ने नोटि‍स भेज पूछा- कहां से आए पैसे
नई दि‍ल्‍ली. नोटबंदी के दौरान जूनागढ़ (गुजरात) के एक मोची के जनधन बैंक अकाउंट में 10 लाख रुपए जमा हो गए। इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट ने अब नोटिस भेजकर मोची से पैसे का सोर्स पूछा है। वहीं, मोची मनसुख मकवाना का कहना है कि वह रोज 200 रुपए कमाते हैं और उन्‍हें नहीं पता कि उनके अकाउंट में यह कब और कहां से जमा हुए।
 
जूनागढ़ के चिंबावाड़ी गांव में रहने वाले मकवाना का बैंक ऑफ बड़ौदा में जनधन अकाउंट है। पिछले 25 साल से वह जूनागढ़ शहर में एक ही जगह पर मोची का काम कर रहा है। मकवाना को बीते शनिवार को इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट की ओर से नोटिस मिला है। नोटिस मिलने के बाद वह घबराया हुआ है।
 
मकवाना ने कहा- जीवन में इतने पैसे नहीं कमाए  
नोटिस मिलने के बाद मकवाना बहुत हैरान है। उसका कहना है, ‘मैं बहुत हैरान हूं। मैंने अपनी जीवन में इतने रुपए कभी नहीं कमाए। मैं हर दि‍न ज्‍यादा से ज्‍यादा 200 रुपए कमा पाता हूं। इतनी बड़ी रकम कहां से और कैसे जमा करा सकता हूं। नोटि‍स से मैं इतना डर गया कि‍ मेरे दि‍माग में आत्‍महत्‍या का ख्‍याल आने लगा।’
 
विधायक से लगाई गुहार
टैक्‍स डिपार्टमेंट का नोटिस मिलने के बाद मकवाना जूनागढ़ से भाजपा के विधायक महेंद्र मशरू से मिला और मामले की जानकारी देकर मदद मांगी। भाजपा विधायक का कहना है, ‘‘मकवाना को हो सकता है कि इनकम टैक्‍स विभाग की ओर से कुछ तकनीकी मुद्दे की वजह से नोटिस मिला हो।’’ उन्होंने दावा किया कि मकवाना के बैंक अकाउंट में कोई भी संदिग्ध लेन-देन का कोई साक्ष्य नहीं है। विधायक ने मकवाना को आश्वस्त किया है कि जरूरत पड़ने पर वह उनके साथ टैक्‍स विभाग के पास जाएंगे।
 

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY