बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Taxationडायरेक्‍ट टैक्‍स लॉ पर बने टॉस्‍क फोर्स का कार्यकाल अगस्‍त तक बढ़ा, टैक्‍स छूट पर देनी है राय

डायरेक्‍ट टैक्‍स लॉ पर बने टॉस्‍क फोर्स का कार्यकाल अगस्‍त तक बढ़ा, टैक्‍स छूट पर देनी है राय

इनकम टैक्‍स नियमों को नए सिरे से लिखने के लिए बनाए टॉस्‍क फोर्स को रिपोर्ट देने के लिए तीन माह का समय और दिया गया है।

1 of
 
नई दिल्‍ली. इनकम टैक्‍स नियमों को नए सिरे से लिखने के लिए बनाए गए टॉस्‍क फोर्स को अपनी रिपोर्ट देने के लिए तीन माह का समय और दिया गया है। अब यह टॉस्‍क फोर्स अगस्‍त तक अपनी रिपोर्ट सरकार को देगा। यह जानकारी फाइनेंस मिनिस्‍ट्री ने दी है। 

 
 
नवंबर को बनाया गया था टॉस्‍क फोर्स 
नवंबर को वित्‍त मंत्रालय ने इस टॉस्‍क फोर्स का गठन किया था। इस टॉस्‍क फोर्स को डायरेक्‍ट टैक्‍स लॉ को नए सिरे से तैयार करना है। इसमें ग्‍लोबल बेस्‍ट प्रैक्टिस के साथ-साथ देश की आर्थिक स्थित को भी ध्‍यान में रख कर इसे नए स्‍वरूप में तैयार करना है। CBDT मेम्‍बर अरबिंद मोदी की अध्‍यक्षता में बनाए गए टॉस्‍क फोर्स को 1961 में लागू हुए इनकम टैक्‍स एक्‍ट की जगह नए सिरे से तैयार टैक्‍स लॉ तैयार करना है। इस टॉस्‍क फोर्स को अपनी रिपोर्ट इसी माह में देनी थी। 
 
 
सरकार ने बढ़ाया समय
सरकार ने टॉस्‍क फोर्स का समय 3 माह के लिए और बढ़ा दिया है। अब यह अपनी रिपोर्ट अगस्‍त तक देगा। CBDT ने एक बयान जारी कर इस बात की जानकारी दी है। इसी मार्च में टॉस्‍क फोर्स ने स्‍टेकहोल्‍डर्स से कई मुद्दों पर राय मांगी थी। 5 बातों पर टॉस्‍क फोर्स की तरफ मांगी राय में इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइलिंग, टैक्‍स क्रेडिट, रिटर्न की प्रोसेसिंग और स्‍क्रूटनी, विवादों के निपटारे का तरीका और पेनाल्‍टी जैसे विषय शामिल थे। 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट