बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Taxationआपके खर्च की हर खबर इन 10 रास्‍तों से सरकार तक पहुंच रही है

आपके खर्च की हर खबर इन 10 रास्‍तों से सरकार तक पहुंच रही है

इनकम टैक्‍स डि‍पार्टमेंट की नाक अब पहले के मुकाबले बहुत तेज हो गई है।

1 of

नई दि‍ल्‍ली. इनकम टैक्‍स डि‍पार्टमेंट की नाक अब पहले के मुकाबले बहुत तेज हो गई है। आपने शायद नोट कि‍या होगा कि‍ नोटबंदी के बाद से छापेमारी और बरामदी बढ़ गई है। कुछ लोग कह रहे थे कि‍ 2000 के नोटों में चि‍प लगी है, फि‍र कुछ ने कहा कि‍ इनमें रेडि‍योएक्‍टि‍व मटीरि‍यल लगा है। मगर ऐसा कुछ नहीं है। डि‍पार्टमेंट ने इनफॉर्मेशन जुटाने के लि‍ए पुरानी और एडवांस तकनीकों का ऐसा जाल बुना है कि‍ हर बड़ी ट्रांजेक्शन छनकर उसके हाथ में आ जाती है। इन 10 रास्‍तों से आपकी जानकारी जा रही है टैक्‍स डि‍पार्टमेंट के पास।


1 कि‍सी भी खाते में अगर 10 लाख या उससे ऊपर की रकम सालभर में जमा कराई गई है तो बैंक उसकी जानकारी इनकम टैक्‍स डि‍पार्टमेंट को देता है।
2 अगर कि‍सी ने 10 लाख या उससे ऊपर की एफडी की है तो ये जानकारी भी बैंक डि‍पार्टमेंट को देता है।
 3 क्रेडि‍ट कार्ड की पेमेंट में 1 लाख या उससे ऊपर नकद देने पर इसकी जानकारी दी जाती है। एक साल के दौरान 10 लाख या उससे ऊपर की क्रेडि‍ट कार्ड की पेमेंट के लि‍ए जारी चेक या ऑनलाइन ट्रांसफर की सूचना भी वि‍भाग को दी जाती है।
4 बॉन्‍ड या डि‍बेंचर खरीदने के लि‍ए एक फाइनेंशि‍यल ईयर में अगर कि‍सी शख्‍स ने 10 लाख या उससे ज्‍यादा की पेमेंट की है तो जि‍न कंपनि‍यों या संस्‍थान से यह खरीदारी हुई है उन्‍हें यह जानकारी देनी होगी। म्‍यूचुअल फंड या शेयर के बाईबैक के बारे में भी इसी तरह की सूचना को साझा करना होगा।
5 दस लाख या उससे ज्‍यादा के ट्रैवलर्स चेक और फॉरेक्‍स कार्ड की खरीदारी।  

6 अगर आपने 5 लाख रुपए से अधिक की कार खरीदी है तो इनकम टैक्‍स विभाग के पास इसकी जानकारी पहुंच चुकी होगी।
7 अगर कोई व्यक्ति गोल्ड ईटीएफ में एक लाख रुपए से अधिक का इनवेस्‍टमेंट करता है तो यह जानकारी आयकर विभाग को दी जाती है।
8  क्रेडिट कार्ड से एक साल में 2 लाख या उससे ऊपर की खरीदारी की सूचना।
9 अगर कोई इनवेस्‍टर शेयर बाजार में 1 लाख रुपए से अधिक का इनवेस्‍टमेंट करता है।
10 अगर आपने कि‍सी दुकान से दो लाख रुपए या उससे अधि‍क की खरीदारी की है तो इसकी सूचना आयकर विभाग को जाती है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट