बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Taxationमोदी के इस फैसले ने बंद करा दी थी हवाला की दुकान, मिनटों में हुआ था एलान

मोदी के इस फैसले ने बंद करा दी थी हवाला की दुकान, मिनटों में हुआ था एलान

मोदी के एक फैसले ने पाकिस्‍तान में छपी फेक करंसी और हवाला कारोबार की कमर तोड़ दी।

1 of

नई दिल्‍ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक फैसले ने पाकिस्‍तान में छपी फेक करंसी और हवाला कारोबार की कमर तोड़ दी। खुद मोदी सरकार के मंत्री ने संसद में यह जानकारी दी। मोदी सरकार का वह फैसला नोटबंदी का था। गृह राज्‍य मंत्री हंसराज अहीर ने मंगलवार को राज्‍य सभा को बताया कि 500 और 1000 रुपए के पुराने नोट बंद करने के फैसले से अचानक पाकिस्‍तान में प्रिंटेड हाई क्‍वालिटी की फेक भारतीय कंरसी खत्‍म हो गई। इसके अलावा, हवाला कारोबार की भी कमर टूट गई। 

 

बता दें, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर 2016 को नोटबंदी का एलान किया था। इससे 500 और 1000 रुपए के पुराने नोटों बेकार हो गए थे। 

 

राज्‍य सभा में एक सवाल के लिखित जवाब में अहीर ने बताया कि नोटबंदी ने तुरंत पाकिस्‍तान में छपी हाई क्‍वलिटी फेक भारतीय करंसी नोट खत्‍म हो गई। इसने हवाला ऑपरेटर्स भी बुरा असर डाला। उन्‍होंने कहा कि लेफ्ट विंग के चरमपंथियों ने भी अपने से सहानुभूति रखने वाला या सीधे-साधे गांवालों के अकाउंट में इललीगल मनी जमा कराई। 


97.75 लाख हुए जब्‍त 

हंसराज अहीर ने बताया कि नोटबंदी के बाद करीब 97.75 लाख रुपए अलग-अलग लेफ्ट विंग के चरमपंथी समूहों से जब्‍त किए गए। नोटबंदी के खिलाफ ऐसे लोगों ने विरोध-प्रदर्शन भी किया। नोटबंदी के बाद बड़े पैमाने पर आतंकियों के पास से इललीगल कैश जब्‍त किए गए। ये अधिकांश करंसी अब बेकार हो गई है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट