विज्ञापन
Home » Economy » TaxationIncome Tax Dept To Track Social Media To Look Out For Tax Evaders

अप्रैल से टैक्स चुराने वालों की आएगी शामत, आयकर विभाग ट्रैक करेगा आपकी सारी हरकतें

Facebook, Instagram पर जरा संभल कर करें पोस्ट

Income Tax Dept To Track Social Media To Look Out For Tax Evaders

Income Tax Dept To Track Social Media To Look Out For Tax Evaders: नए वित्त वर्ष से टैक्स चुराने वालों की खैर नहीं। केंद्र सरकार ऐसी तकनीक शुरू करने जा रही है जिससे टैक्स चाेरी करने वालों का आसानी से पता लगाया जा सकेगा। आयकर विभाग के अधिकारी करदाताओं को हर तरफ से ट्रैक कर सकेंगे। यानी अगर आपकी आमदनी और खर्च के हिसाब में गड़बड़ी है तो आप भी इनकम टैक्स विभाग के रडार पर आ सकते हैं। इसके लिए सरकार ने Inter Project Inside तैयार किया है, जो एक तरह का टैक्स ट्रैकर है।

नई दिल्ली.

नए वित्त वर्ष से टैक्स चुराने वालों की खैर नहीं। केंद्र सरकार ऐसी तकनीक शुरू करने जा रही है जिससे टैक्स चाेरी करने वालों का आसानी से पता लगाया जा सकेगा। आयकर विभाग के अधिकारी करदाताओं को हर तरफ से ट्रैक कर सकेंगे। यानी अगर आपकी आमदनी और खर्च के हिसाब में गड़बड़ी है तो आप भी इनकम टैक्स विभाग के रडार पर आ सकते हैं। इसके लिए सरकार ने Inter Project Inside तैयार किया है, जो एक तरह का टैक्स ट्रैकर है।

 

यह भी पढ़ें- 1 April से बदल जाएंगे ये 14 नियम, आपकी जिंदगी पर पड़ेगा सीधा असर

 

फेसबुक और इंस्टाग्राम से इकठ्‌ठा होगा डाटा

यह ट्रैकर बिग डाटा पर आधारित होगा। बिग डाटा उस डाटा को कहा जाता है जो सामान्य से कहीं ज्यादा बड़ा होता है। यह समय के साथ और बढ़ता चला जाता है। सीधे शब्दों में कहा जाए तो सोशल मीडिया का डाटा होता है। यह ट्रैकर कई साल में तैयार हुआ है और इसमें 1,000 करोड़ रुपए की लागत आई है। प्रोजेक्ट के तहत सरकार गैर-पारंपरिक, लेकिन बेहद प्रभावी और विश्वसनीय सूचना के स्रोतों का इस्तमेाल करेगी। कर चोरी का पता लगाने के लिए सरकार के पास टूल्स के रूप में अब तक बैंक जैसे पारंपरिक स्रोत ही थे। लेकिन अब सरकार फेसबुक और इंस्टाग्राम जैसे सोशल साइटों से भी वर्चुअल सूचनाएं इकट्ठा करेगी।

 

 

ऐसे काम करेगा यह ट्रैकर

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आयकर विभाग ने अपने अधिकारियों को 15 मार्च से इनसाइट पोर्टल एक्सेस करने की मंजूरी दे दी है। इसलिए अगर आप सोशल मीडिया पर अपनी नई कार की तस्वीर पोस्ट करते हैं या फिर विदेश में छुट्टियां मनाने जाते हैं और फेसबुक पर चेक-इन करते हैं, लेकिन इस बारे में इनकम टैक्स विभाग को नहीं बताते हैं, तो आप आयकर विभाग के रडार पर आ सकते हैं। इन स्रोतों से इनकम टैक्स आपकी गतिविधियों और खर्चों पर नजर रखेगा और अगर आमदनी और खर्च में फर्क दिखता है तो विभाग आपसे जवाबतलब करेगा।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन