Home » Economy » TaxationI-T e-assessment CBDT notifies new communication scheme

वेरि‍फिकेशन के लिए टैक्‍सपेयर्स को नहीं जाना पड़ेगा इनकम टैक्‍स ऑफिस, आ गया ई-नोटिस सिस्‍टम

टैक्‍सपेयर्स को ई-नोटिस भेजने के लिए CBDT ने नई सेंट्रलाइज्‍ड कम्‍युनिकेशन स्‍कीम को नोटिफाई किया है।

1 of
नई दिल्‍ली. टैक्‍सपेयर्स को ई-नोटिस भेजने के लिए सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्‍ट टैक्‍सेज (CBDT) ने नई सेंट्रलाइज्‍ड कम्‍युनिकेशन स्‍कीम को नोटिफाई किया है। यह कदम पूरे देश में टैक्‍स अधिकारियों और असेसी के बीच पेपरलेस इंटरफेस सिस्‍टम क्रिएट करने के सरकार के प्‍लान का हिस्‍सा है। 

 
इस स्‍कीम के तहत इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट में एक इंटरनेट बेस्‍ड इंडिपेंडेंट सेंट्रलाइज्‍ड कम्‍युनिकेशन सेंटर (CCC) स्‍थापित किया जाएगा। यह सेंटर ऐसे लोगों को नोटिस जारी करेगा, जिन्‍हें कर अधिकारियों को वेरिफिकेशन के लिए इन्‍फॉरमेशन या डॉक्‍युमेंट्स देने की जरूरत है। 
 
CBDT ने 22 फरवरी को जारी नोटिफिकेशन में कहा कि यह नई स्‍कीम सुनिश्चित करेगी कि किसी भी इन्‍सान या उनके ऑथराइज्‍ड रिप्रेजेन्‍टेटिव को किसी भी तरह की प्रोसिडिंग्‍स के लिए डिपार्टमेंट के अधिकारियों के समक्ष पर्सनली आने की जरूरत न पड़े।  
 

अधिकारियों के डिजिटल साइन से होगा काम 

नोटिफिकेशन में कहा गया कि नोटिस टैक्‍स डिपार्टमेंट के डेजिग्‍नेटेड अधिकारी जारी करेंगे। वे केवल अपने डिजिटल साइन का इस्‍तेमाल करेंगे और नोटिस को ई-मेल के जरिए असेसी तक भेजा जाएगा। साथ ही उन्‍हें टेक्‍स्‍ट मैसेज के जरिए सूचना भी दी जाएगी। CCC में एक मशीन रीडेबल डिवाइस भी होगी, जिसके जरिए टैक्‍सपेयर्स की प्रतिक्रिया प्राप्‍त होगी। इसके अलावा CCC का टास्‍क टैक्‍सपेयर्स से डिपार्टमेंट के आदेश का पालन करवाना भी होगा, इसके लिए सेंटर ई-मेल, SMS, रिमाइंडर्स, लेटर्स और फोन कॉल्‍स की मदद लेगा। CCC का एक कॉल सेंटर भी होगा, जहां पर टैक्‍सपेयर्स के सवालों के जवाब दिए जाएंगे। 
 

ई-सिस्‍टम के वैकल्पिक रहने की संभावना 

उम्‍मीद है कि ई-कम्‍युनिकेशन का नया सिस्‍टम वॉलंटरी होगा और टैक्‍सपेयर्स के ऊपर होगा कि वे ई-सिस्‍टम के जरिए काम करना चाहते हैं या टैक्‍स ऑफिस जा कर डॉक्‍युमेंट्स सबमिट करने के मौजूदा प्रोसिजर को ही अपनाते हैं। टैक्‍सपेयर्स द्वारा ऑफिशियर आईटी वेब पोर्टल पर रजिस्‍टर होते ही उन्‍हें टेक्‍स्‍ट मैसेज और ईमेल के जरिए कन्‍फर्मेशन मैसेज मिल जाएगा। 
 

 

बजट में हुई थी टैक्‍स रिटर्न्‍स के इलेक्‍ट्रॉनिक असेसमेंट की घोषणा 

बता दें कि वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने बजट भाषण में घोषणा की थी कि टैक्‍स रिटर्न्‍स के लिए देश में जल्‍द ही इलेक्‍ट्रॉनिक असेसमेंट शुरू किया जाएगा। इससे सिस्‍टम में दक्षता व पारदर्शिता आएगी और पर्सन टू पर्सन कॉन्‍टैक्‍ट लगभग खत्‍म हो जाएगा। एक अधिकारी के मुताबिक, नई कम्‍युनिकेशन स्‍कीम इसी दिशा में उठाया गया कदम है। आने वाले दिनों में इस नए सिस्‍टम को लागू करने के लिए कुछ और आदेश दिए जाएंगे। 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट