विज्ञापन
Home » Economy » PolicyUrban art body clears Gandhi Maidan parking

मार्केट / चांदनी चौक की बदलेगी सूरत, 300 करोड़ रुपए की लागत से तैयार होगी मल्टीलेवल पार्किंग, जल्द शुरू होगा काम

इसका बाहरी रूप महल की तरह दिखाई देगा और इसके अंदर माॅल की तरह आधुनिक लिफ्ट होगी

1 of

नई दिल्ली.

चांदनी चौक से जाम की समस्या को दूर करने को नॉर्थ एमसीडी ने खास प्लान तैयार किया है। इसके तहत गांधी मैदान में मल्टीलेवल कार पार्किंग विकसित की जाएगी। इसके कुछ हिस्से का यूज कमर्शियल कॉम्प्लेक्स के रूप में किया जाएगा। पार्किंग दिखने में शॉपिंग मॉल की तरह होगी। दिल्ली अरबन आर्ट कमिशन (डीयूएसी) ने इस परियोजना को अपनी मंजूरी दे दी है। अब 7 से 8 दिनाें के भीतर इस प्रोजेक्ट पर काम शुरू कर दिया जाएगा।


300 करोड़ रुपए की लागत आएगी

मल्टीलेवल कार पार्किंग में तीन बेसमेंट और उसके बार सात मंजिला कार पार्किंग होगी। इस तरह नीचे से ऊपर तक पूरी पार्किंग दस मंजिला होगी। एमसीडी ने इसे अक्टूबर, 2020 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा है। नॉर्थ एमसीडी के एक अधिकारी के मुताबिक, पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) मॉडल के तहत इसे विकसित किया जाएगा इसलिए इसके निर्माण में एमसीडी का एक रुपया भी नहीं लगेगा। इसके निर्माण में 300 करोड़ रुपए की लागत आने का अनुमान लगाया जा रहा है, जिसे पार्किंग बनाने वाली कंपनी खर्च करेगी। इतना ही नहीं कंपनी निर्माण कार्य पूरा होने के बाद एमसीडी को 445 करोड़ रुपए भी देगी।

यह पुरानी दिल्ली की इमारतों की तरह दिखाई देगी

पुरानी दिल्ली की अपनी एक खास पहचान है। यहां की इमारतों को धराेहर की तरह देखा जाता है। यह व्यवसायिक केन्द्र पुरानी दिल्ली से मिलता हुआ दिखे इसके लिए इसके डिजाइन को हैरिटेज लुक दिया गया है। इसे पार्किंग कम शाॅपिंग काॅम्प्लेक्स के रूप में तैयार किया जा रहा है। इसका बाहरी रूप पुरानी दिल्ली में महल की तरह दिखाई देगा और इसके अंदर माॅल की तरह आधुनिक लिफ्ट होगी।


पार्किंग में कमर्शियल कॉम्प्लेक्स भी बनेगा

वर्तमान में यहां एमसीडी की ओर से सरफेस पार्किंग चलाई जा रही थी, जिसे अभी बंद किया गया है। सरफेस पार्किंग की क्षमता 600 कारों की थी। मल्टीलेवल कार पार्किंग बनने के बाद क्षमता 4 गुणा हो जाएगी। इसमें 2, 350 कारों को खड़ा किया जा सकेगा। पार्किंग में कमर्शियल कॉम्प्लेक्स भी बनेगा। पार्किंग का संचालन एमसीडी खुद करेगी, दुकानों को विकसित करने वाली कंपनी बेचेगी।
 

 

अभी हो रही है ये दिक्कतें

प्रॉजेक्ट कंस्ट्रक्शन वर्क के दौरान ट्रैफिक डायवर्जन से लोगों को दिक्कतें भी हो सकती हैं। इसके लिए ट्रैफिक पुलिस ने ट्रैफिक मैनेजमेंट प्लान भी तैयार किया है। अलग-अलग समय में एक साइड का काम पूरा किया जाएगा, ताकि लोगों को परेशानी न हो। फतेहपुरी मस्जिद से लाल किला तक 30अप्रैल तक मरम्मत कार्य की वजह से बंद कर दिया गया था।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन