विज्ञापन
Home » Economy » PolicyTravel Insurance Before Traveling

Insurance / सफर करने से पहले जरूर कराएं बीमा, मुसीबत में नहीं होगी पैसों की किल्लत

हर जरूरत का अलग बीमा कवर

Travel Insurance Before Traveling
  • जरूरत पड़ने पर ऐसे करें क्लेम

नई दिल्ली। जेट एयरवेज के बंद होने के चलते इसका असर सीधे तौर पर यात्रियों को उठाना पड़ रहा है। हजारों यात्रियों की टिकट अचानक कैंसिल हो गई है। इससे पहले से बुक कराए गए होटल इत्यादि में लोगों के पैसे फंस गए हैं। जो यात्री विदेश जा रहे हैं उनके लिए यह स्थिति काफी परेशान करने वाली है। ऐसे में जरूरी है कि किसी भी संकट में पड़ने से पहले आपके पास यात्रा बीमा काफी कारगार साबित हो सकता है। आप अकेले यात्रा करें या परिवार के साथ, लेकिन किसी भी मुश्किल का सामना करने के लिए आपको हमेशा तैयार रहना चाहिए। अधिकतर लोग छोटी यात्रा के लिए बीमा लेने से परहेज करते हैं। लेकिन यह बात याद रखनी चाहिए कि मुसीबत कभी किसी स्थिति के लिए हमेशा तैयार रहना होगा। 

 

यह भी पढ़ें- अप्रैल में घूमने के लिए यह हैं शानदार Destination, कम बजट में घूमना है तो बनाएं यहां का प्लान

हर जरूरत का अलग बीमा कवर


यात्रियों की जरूरतों को देखते हुए बीमा कंपनियां अलग-अलग प्रकार के प्लान पेश करती है। इन  सभी प्लान में घरेलू और विदेशी यात्रा सहित कई कैटेगरी होती है। 

घरेलू यात्रा बीमा- यह बीमा देश के अंदर ही घूमने वाले यात्रियों को दिया जाता है। इसमें दुर्घटना, सामान खो जाना, चोरी होना, मौत, यात्रा में देरी ऐसी सभी स्थितियों में सहायता दी जाती है। 

विदेशी यात्रा बीमा- इस बीमा का लाभ विदेश यात्रा पर जाने वाले को मिलता है। इस दौरान पासपोर्ट या अन्य दस्तावेज खोने, विमान हाईजैक होने, दुर्घटनाया स्वास्थ्य संबंधी परेशानी होने पर इसका लाभ मिलता है। 

परिवार यात्रा बीमा- इसमें विदेश अथवा देश के भीतर यात्रा के समय पूरे परिवार को कवर किया जाता है। दुर्घटना, बीमारी, उड़ान रद्द होने पर इसका फायदा मिलता है। 

जरूरत पड़ने पर ऐसे करें क्लेम


पॉलिसी बाजार के मुताबकि, यात्रा के समय मुख्य पॉलिसी दस्तावेज और फोटोकॉपी  साथ ले जाएं। अपने फोन या ई-मेल में भी रखें। जरूरत पर दस्तावेज के साथ कंपनी को मेल करें। इसके बाद समस्या और खर्च का विवरण सभी दस्तावेजों और प्रमाण समेत उपलब्ध कराएं। 

सावधानी  से  करें  यात्रा बीमा का चुनाव


- यात्रा बीमा लेने  से पहले कंपनी कीन विश्वसनीयता परखना काफी जरूरी है। 
- बीमा पर आने  वाली लागत यानी प्रीमियम की तुलना करें और उचित उत्पाद चुनें।
- क्लेम पर आसानी से भुगतान मिले इसलिए सेटलमेंट रेशियो जानना जरूरी। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन