विज्ञापन
Home » Economy » PolicyThe new government will now give tape water and everyone a home gift after power

लोकसभा चुनाव रिजल्ट / नई सरकार बिजली के बाद अब देगी टेप वाटर और सबको घर का तोहफा

स्मार्ट सिटी की बजाय सेटेलाइट टाउन व सिटी सेंटर पर होगा जोर

The new government will now give tape water and everyone a home gift after power

नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव की मतगणना में आ रहे रुझान अब नतीजे की ओर बढ़ने लगे हैं। भारतीय जनता पार्टी बहुमत के साथ अपने दम पर सरकार बनाने के आंकड़े से काफी आगे निकल गई है। इसका मतलब है कि एक बार फिर नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। दोबारा पीएम बनने पर भाजपा का संकल्प पत्र लागू करने पर मोदी का जोर होगा। अहम बात यह है कि संकल्प पत्र में इस बार सबको आवास और टेप वाटर मुहैया कराने का लक्ष्य रखा गया है। 


बिजली में मिली कामयाबी के बाद दूसरे सेक्टरों पर फोकस 

 मोदी सरकार ने वर्ष 2014 में शहरों के विकास के लिए अमृत, स्मार्ट सिटी, हाउसिंग फॉर ऑल, स्वच्छ भारत मिशन और ह्रदय जैसी योजनाएं लांच की थी। स्वच्छ भारत मिशन और हाउसिंग फॉर ऑल काफी सराहे गए। इसलिए यह दोनों योजनाएं फिर जारी रह सकती हैं। मोदी सरकार के कार्यकाल (2014-19) में रिकॉर्ड वक्त में हर गांव तक बिजली पहुंचाकर पूरे देश में 100 प्रतिशत इलेक्ट्रिफिकेशन किया गया था। अब नई सरकार में भी यही फार्मूला दूसरे सेक्टरों पर लागू हो सकता है। संकल्प पत्र के अनुसार वर्ष 2022 तक दो करोड़ आवास और वर्ष 2024 तक सबको टेप टावर की योजना आकार ले सकती है। बीते पांच साल में ही सरकार ने 80 लाख पक्के मकान बनाने की उपलब्धि हासिल की है। वहीं सीवेज व बरसाती पानी के निपटारे का भी मिशन सरकार शुरू कर सकती है। इसके लिए अब अमृत योजना का भी नया फेस शुरू किया जा सकता है। इस बार मोदी सरकार का इसका बजट 50 हजार से बढ़ाकर एक लाख करोड़ रुपए कर सकती है। 

यह भी पढ़ें : राहुल के 'न्याय' से वोटर्स ने किया किनारा, गेमचेंजर की जगह लूजर बनी घोषणा

सेटेलाइट टाउन व सिटी सेंटर पर फोकस 


मोदी सरकार ने पहले कार्यकाल में स्मार्ट सिटी और बुलेट ट्रेन के लिए काफी काम किया था। स्मार्ट सिटी में निगेटिव फीडबैक और बुलेट ट्रेन खर्चीली होने की वजह से नए कार्यकाल मोदी सरकार इस पर हाथ तंग कर सकती है। संकल्प पत्र में दोनों का जिक्र नहीं है। हालांकि मोदी सरकार ने पहले से ही न्यू अर्बन पॉलिसी पर काम कर रही थी। संकल्प पत्र में भी इसकी झलक है।  इसके तहत शहरों में सेटेलाइट टाउन व नए सिटी सेंटर का निर्माण हो सकता है। 

यह भी पढ़ें : युवाओं को नहीं लुभा पाया 24 लाख नौकरियों का वादा

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss