विज्ञापन
Home » Economy » PolicyRetail inflation spikes to 7 month high and Industrial growth at 6 month high

आंकड़े / खुदरा महंगाई 3.05% ग्रोथ के साथ 7 महीने के उच्चतम स्तर पर, IIP ग्रोथ 6 महीने में सबसे ज्यादा

आईआईपी ग्रोथ की मुख्य वजह माइनिंग और बिजली उत्पादन में बढ़ोतरी रही

Retail inflation spikes to 7 month high and Industrial growth at 6 month high
  • फूड आइटम्स की कीमतों में बढ़ोतरी के कारण खुदरा महंगाई (Retail inflation) बढ़कर 3.05 फीसदी के स्तर पर पहुंच गई, जो 7 महीने में सबसे ज्यादा है


नई दिल्ली. फूड आइटम्स की कीमतों में बढ़ोतरी के कारण खुदरा महंगाई (Retail inflation) बढ़कर 3.05 फीसदी के स्तर पर पहुंच गई, जो 7 महीने में सबसे ज्यादा है। हालांकि औद्योगिक उत्पादन ने सरकार को जरूर कुछ राहत दी, जो अप्रैल में 3.4 फीसदी रही। आईआईपी ग्रोथ का यह स्तर 6 महीने में उच्चतम रहा। आईआईपी ग्रोथ की मुख्य वजह माइनिंग और बिजली उत्पादन में बढ़ोतरी रही।

फूड बास्केट की महंगाई से लगा झटका

केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) द्वारा बुधवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, अप्रैल में कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स (CPI) बेस्ड खुदरा महंगाई मामूली संशोधन के साथ बढ़ाकर 2.99 फीसदी कर दी गई, जबकि पहले 2.92 फीसदी अनुमानित बताई गई थी। वहीं एक साल पहले समान महीने यानी मई, 2018 में खुदरा महंगाई 4.87 फीसदी रही थी। इससे पहले अक्टूबर, 2018 में खुदरा महंगाई 3.38 फीसदी रही थी। 
आंकड़ों के मुताबिक, फूड बास्केट की महंगाई मई में बढ़कर 1.83 फीसदी के स्तर पर पहुंच गई, जबकि अप्रैल में यह आंकड़ा 1.1 फीसदी रहा था।

माइनिंग और पावर सेक्टर ने आईआईपी को दिया बूस्ट

वहीं अप्रैल में आईआईपी ग्रोथ 3.8 फीसदी रही, जबकि एक साल पहले समान अवधि यानी अप्रैल, 2018 में यह ग्रोथ 4.5 फीसदी रही थी।
अप्रैल माइनिंग सेक्टर में आईआईपी ग्रोथ 5.1 फीसदी रही, जबकि एक साल पहले समान अवधि में यह आंकड़ा 3.8 फीसदी रहा था।
इसी प्रकार पावर सेक्टर की ग्रोथ अप्रैल में 6 फीसदी रही, जबकि बीते साल समान महीने में ग्रोथ 2.1 फीसदी रही थी। हालांकि मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में सुस्ती दर्ज की गई। इससे आईआईपी ने अक्टूबर, 2018 में 8.4 का हाई छूआ था।
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss