Home » Economy » Policyमूडीज रेटिंग: Moodys Increased Ratings of Nine PSU Companies

मूडीज ने 9 पीएसयू कंपनियों की रेटिंग बढ़ाई, आउटलुक पॉजिटिव से स्टेबल किया

रेटिंग एजेंसी मूडीज ने ओएनजीसी, आईओसी समेत 9 पब्लिक सेक्टर कंपनियों की रेटिंग बढ़ाकर Baa3 से Baa2 कर दी है।

मूडीज रेटिंग: Moodys Increased  Ratings of Nine PSU Companies

नई दिल्ली। रेटिंग एजेंसी मूडीज ने ओएनजीसी, आईओसी समेत 9 पब्लिक सेक्टर कंपनियों की रेटिंग बढ़ा दी है। इन कंपनियों की रेटिंग Baa3 से Baa2 और Baa2 से Baa1 कर दी गई है। वहीं, एसबीआई समेत 4 वित्तीय संस्थानों की भी रेटिंग बढ़ाई है। 

 

 

जिन कंपनियों की रेटिंग बढ़ाई गई है, उनमें ओएनजीसी, बीपीसीएल, आईओसी, एचपीसीएल, एनटीपीसी, गेल, एनएचएआई और पेट्रोनेट एलएनजी लिमिटेड शामिल हैं। वहीं, वीत्तीय संस्थानों में एसबीआई, एचडीएफसी बैंक, इंडियन रेलवे फाइनेंस कॉरपोरेशन और एक्जिम बैंक हैं, जिनकी लॉन्ग टर्म की रेटिंग बढ़ा दी गई है। 

 

किस कंपनी को क्या मिली रेटिंग 
बीपीसीएल, एचपीसीएल, आईओसी और पेट्रोनेट एलएनजी लिमिटेड की रेटिंग  Baa3 से Baa2 कर दी है। यह रेटिंग भारत की साख के अनुरूप है। इसी तरह से एनटीपीसी, एनएचपीसी, एनएचएआई और गेल इंडिया की रेटिंग भी बढ़ाकर स्टेबल आउटलुक के साथ Baa2 कर दी गई है। वहीं, ओएनजीसी की रेटिंग देश की साख से अधिक है। कंपनी की रेटिंग Baa2 से Baa1 कर दी गई है। मूडीज में बयान में कहा है कि इन रेटिंग का आउटलुक सुधारकर पाजिटिव से स्टेबल कर दिया गया है।

 

13 साल बदली भारत की रेटिंग 
बता दें कि मूडीज ने करीब 13 साल बाद भारत की रेटिंग भी Baa3 से बढ़ाकर Baa2 कर दी है। इससे पहले मूडीज ने 2004 में भारत की रेटिंग अपग्रेड की थी। आउटलुक को पॉजिटिव से बदलकर स्टेबल कर दिया है।  Moody's ने अपने स्टेटमेंट में कहा कि भारत की रेटिंग अपग्रेड होने की वजह वहां देश में हो रहे इकोनॉमिक रिफॉर्म्स हैं। जैसे-जैसे वक्त बीतता जाएगा, भारत की ग्रोथ में इजाफा होगा। इस बात की भी संभावना है कि मीडियम टर्म में सरकार पर कर्ज का भार भी कम होता जाए। हालांकि Moody's ने ये भी सलाह दी है कि भारत को ये भी ध्यान रखना चाहिए कि भारत का ज्यादा कर्ज कहीं उसका क्रेडिट प्रोफाइल खराब न कर दे। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट