विज्ञापन
Home » Economy » PolicyMamata Government announcement will now be paid to the pandit of funeral

फैसला / ममता सरकार का ऐलान, अब अंतिम संस्कार कराने वाले पुरोहितों को मिलेगा वेतन

हर अंतिम संस्कार के 380 रुपए भत्ता देने की घोषणा की है

Mamata Government announcement will now be paid to the pandit of  funeral
  • निगम के अंर्तगत आते हैं 7 शमशान घाट
  • इसका फायदा 49 पुरोहितों को मिलेगा

नई दिल्ली. अपनी मुस्लिमों के प्रति पक्षपतात की छवि को धूमिल करने के लिए कोलकाता नगर निगम (केएमसी) ने ऐतिहासिक फैसला लिया है। दरअसल, पहली बार कोलकाता नगर निगम ने फैसला लिया है कि वह उन हिंदू पंडितों को वेतन देगा जो निगम के अंर्तगत पड़ने वाले शमशान घाटों पर अंतिम संस्कार करवाते हैं।  यह फैसला ऐसे समय में लिया गया है जब लोकसभा चुनाव खत्म हो गया है।

हर अंतिम संस्कार के 380 रुपए भत्ता देने की घोषणा की है

मंगलवार को निगम के मासिक अधिवेशन में केएमसी के मेयर फिरहाद हकीम ने इस बात की जानकारी दी है। उन्होंने यहां निकाय संस्था पुरोहितों को हर अंतिम संस्कार के 380 रुपए भत्ता देने की घोषणा की है। इसे बुधवार को निगम परिषद की बैठक में मंजूरी दे दी जाएगी।

वेतन लोकसभा चुनाव से पहले देने का निर्णय लिया गया था

हालांकि कोलकाता नगर निगम (केएमसी) का कहना है कि वेतन लोकसभा चुनाव से पहले देने का निर्णय लिया गया था। मेयर फिरहाद हकीम ने कहा, 'हम इसे अब लागू कर रहे हैं। इन पुरोहितों की आय का कोई नियमित साधन नहीं है और वह पूरी तरह से शोक संतप्त परिवार द्वारा मिलने वाली राशि पर निर्भर करते हैं। उनकी मदद करने के लिए हमने प्रति शव के अंतिम संस्कार के लिए उन्हें 380 रुपये देने का फैसला लिया है।'

निगम के अंर्तगत आते हैं 7 शमशान घाट

बता दें कि निगम के अंर्तगत सात श्मसान है। जहां 49 पुरोहितों को इस परियोजना के तहत लाया जाएगा। इनमें काशीपुर, काशीमित्र घाट, निमतल्ला, केवड़ातल्ला, गरिया, सिरियारी और गार्डनरिच स्थित श्मसान घाट शमिल हैं। बता दें कि 2012 में मुख्यमंत्री बनर्जी ने घोषणा की थी कि इमाम और मुअज्जिन को 2,500 और 30,000 रुपये का वेतन दिया जाएगा। इस फैसले ने विवाद खड़ा कर दिया था क्योंकि हिंदू पंडित भी इसी तरह के लाभ की मांग कर रहे थे और बीजेपी ने इसको लेकर सरकार की आलोचना की थी। बता दें कि लोकसभा चुनाव के बाद सामने आई एग्जिट पोल में तृणमूल की जमीन खिसकती नजर आ रही है।


 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss