बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyदेश के ये 7 राजघराने आज भी जीते हैं रॉयल लाइफ, जानिए कैसे कर रहे हैं कमाई

देश के ये 7 राजघराने आज भी जीते हैं रॉयल लाइफ, जानिए कैसे कर रहे हैं कमाई

देश में राजशाही भले ही खत्‍म हो गई है लेकिन आज भी कई ऐसे राजघराने हैं, जो पहले की तरह रॉयल लाइफ जीते हैं। इन राजघरानों के पास आलीशान महल और रोल्‍स रॉयस जैसी लग्‍जरी कारें हैं।

1 of
 
नई दिल्‍ली। देश में राजशाही भले ही खत्‍म हो गई है लेकिन आज भी कई ऐसे राजघराने हैं, जो पहले की तरह रॉयल लाइफ जीते हैं। इन राजघरानों के पास आलीशान महल और रोल्‍स रॉयस जैसी लग्‍जरी कारें हैं। राजसी लाइफ जीने वाले इन राजपरिवारों में मेवाड़ के अरविंद सिंह और यदुवीर वाडियार भी शामिल हैं। आइए जानते हैं देश के ऐसे 7 राजपरिवारों के बारे में...
 
मेवाड़ का राजपरिवार  
 
-राणा अरविंद सिंह मेवाड़ राजघराने के 76वें संरक्षक हैं।
-यह राजघराना आज भी अपनी अकूत धन-दौलत के लिए प्रसिद्ध है।
-इस राजघराने का राजस्‍थान में एचआरएच ग्रुप ऑफ होल्‍टस के नाम से बिजनेस है।
-इसमें हेरिटेज होटल, रिसार्ट्स और चैरिटेबल इंस्टिट्यूशन शामिल हैं, जहां करीब 1200 लोग काम करते हैं।
-मेवाड़ राजपरिवार का उदयपुर में पिछोला आइलैंड पर बना एक बेहद खूबसूरत जगमंदिर पैलेस भी है, जो उदयपुर के प्रमुख टूरिस्‍ट प्‍लेस में से एक है।
-इस गोल्‍डन पैलेस होटल की सुंदरता व भव्‍यवता देखने लायक है। इसके अलावा उदयपुर सिटी पैलेस में रखीं विंटेज कारें इस राजघराने की खास पहचान है। 
-लग्जरी कारों के शौकीन अरविंद सिंह के पास कई रोल्स रॉयस कारें हैं। यह भी कहा जाता है कि कई कारों को खास तौर से मेवाड़ के राजाओं के लिए डिजाइन किया गया था।
 
अगली स्‍लाइड में जानिए, क्‍या करते हैं देश के अन्‍य राजपरिवार....   
 
 
 
वाडियार का राजपरिवार  
 
-23 वर्षीय यदुवीर कृष्‍णदत्‍ता चामराजा वाडियार मैसूर के नए राजा के तौर पर ताजपोशी पिछले साल हुई थी।
-वाडियार राजघराने का इतिहास 1399 से चला आ रहा है।
-मैसूर शहर के केंद्र में स्थित मैसूर का महाराजा पैलेस शहर का आकर्षण का केंद्र है।
-इस किले में 7 दरवाजे हैं, जिसे मैसूर राज्य के वाडियार महाराजाओं ने बनवाया था।
-सबसे पहले यहां पर लकड़ी का महल बनवाया गया था। जब लकड़ी का महल जल गया, तब इस महल का निर्माण कराया गया।
-मैसूर राजपरिवार के पास करीब 10 हजार करोड़ रुपए की संपत्ति है।
 
 
 
अलसीसर का राजपरिवार 
 
-अभिमन्‍यु सिंह राजस्‍थान के अलसीसर राजपरिवार के प्रमुख हैं।
-इन्‍हें खेत्री का राजा भी कहा जाता है।
-इस राजपरिवार के पास जयपुर और रणथम्‍भौर में कई बड़ी हवेलियां भी हैं।
-इसमें जयपुर स्थित अलसीसर हवेली को एक हेरिटेज होटल में तबदील कर दिया गया है।
-यहां हर साल आयोजित होने वाले इलेक्‍ट्रॉनिक डांस फेस्टिवल और मैग्‍नेटिक फील्‍ड के को-स्‍पॉन्‍सर अभिमन्‍यु सिंह हैं।
-अलसीसर राजपरिवार भी भव्य तौर-तरीकों से रहने के लिए जाना जाता है। 
 
 
राजकोट का राजपरिवार
 
-युवराज मंधातसिन जडेजा राजकोट राजपरिवार के प्रमुख हैं।
-ये राजपरिवार अपनी संपत्ति को हेरिटेज होटल में तब्‍दील कर रहा है। -मंधातसिन जडेजा ने बायो-फ्यूल डेवलपमेंट और हाइड्रोपावर प्लांट में करीब 100 करोड़ रुपए का इन्वेस्ट भी किया है।
-इसके अलावा इस राजपरिवार ने यूएस पिज्जा के साथ में करार भी किया है, ताकि गुजरात में पिज्‍जा स्‍टोर खोले जाए।
 
 
 
बड़ौदा का गायकवाड़ राजपरिवार
 
-समरजीत सिंह गायकवाड़ इस राजपरिवार के प्रमुख हैं।
-इस राजपरिवार ने हाल ही में 20 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा की प्रॉपर्टी खरीदी है।
-इनके पास दो हजार एकड़ का कॉमर्शियल और रियल एस्टेट का कारोबार है।
-गायकवाड़ राजपरिवार के पास लगभग 600 एकड़ में फैला 187 कमरों का लक्ष्‍मी विलास पैलेस भी है।
-इस पैलेस को 1890 में महाराजा सायाजी राव (तृतीय) ने बनाया था। -युवराज समरजीत सिंह ने अपने लिए पैलेस के अंदर 10 होल गोल कोर्स भी बनवाया है।
 
 
जोधपुर का राजपरिवार  
 
-जोधपुर के राजपरिवार के पास दुनिया का सबसे बड़ा प्राइवेट रेसिडेंस उम्‍मेद भवन पैलेस है।
-इसमें 347 कमरे हैं, जिसके एक हिस्‍से को होटल बना दिया गया है।
-इस होटल को मैनेज करने के लिए इस राजपरिवार ने ताज ग्रुप के साथ हेरिटेज होटल के तौर पर पार्टनरशिप की है।
-इस रेसिडेंस को ट्रैवलर च्वॉइस अवॉर्ड में बेस्ट होटल का अवॉर्ड भी मिला है।
-इस भव्य महल के अलावा इस शाही परिवार के पास कुछ किले भी हैं। -सालाना जलसों में इस राजपरिवार का अंदाज भी देखने लायक होता है।
 
 
बीकानेर का राजपरिवार
 
-अर्जुन अवॉर्ड जीत चुकी शूटर राज्‍यश्री कुमारी बीकानेर राजपरिवार की उत्‍तराधिकारी हैं।
-फिलहाल ये राजस्‍थान के कई चैरिटबल ट्रस्ट की चेयरपर्सन भी हैं। -इस राजपरिवार का लालगढ़ महल के नाम से एक हेरिटेज होटल भी है।
-यह हेरिटेज होटल साल 1902 से 1906 के बीच में बनाया गया था।
-इस हेरिटेज होटल के अंदर में श्री सादुल म्यूजियम भी है, जिसमें कई पुराने हथियार रखे गए हैं। 
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट