Home » Economy » PolicyIndia fiscal deficit till October of 2017-18 stood at 96% per cent of full year target

7 महीने में ही 96%के लेवल पर पहुंचा फिस्‍कल डेफिसिट, मोदी सरकार के लिए बढ़ा चैलेंज

चालू वित्‍तीय वर्ष के पहले 7 महीने में फिस्‍कल डेफिसिट बजट टारगेट का 96 फीसदी पर पहुंच गया है।

1 of

नई दिल्‍ली. चालू वित्‍तीय वर्ष के पहले 7 महीने में फिस्‍कल डेफिसिट बजट टारगेट का 96 फीसदी पर पहुंच गया है। बजट में सरकार ने पूरे फाइनेंशियल ईयर के लिए 5.46 लाख करोड़ रुपए का फिस्‍कल डेफिसिट का अनुमान लगाया गया था। इसकी तुलना में अक्टूबर तक यानी पहले 7 महीने में ही 5.2 लाख करोड़ रुपए का फिस्‍कल डेफिसिट हो चुका है। जो कुल बजट टारगेट का 96 फीसदी के लेवल तक पहुंच गया है। कंट्रोलर जनरल ऑफ अकाउंट्स (सीजीए) की तरफ से जारी डाटा के अनुसार के अनुसार पिछले साल इसी समय के दौरान यह घाटा 4.2 लाख करोड़ था। जो बजट अनुमान का  केवल 79.3 फीसदी था। 

 

क्यों बढ़ा फिस्कल डेफिसिट

पहले 7 महीने में ही 96 फीसदी के लेवल पर फिस्कल डेफिसिट पहुंचने की वजह से मोदी सरकार के लिए चैलेंज बढ़ गया है। इस डाटा से साफ है कि सरकार की कमाई, खर्च की तुलना में बढ़ गया है। ऐसे में मोदी सरकार बचे फाइनेंशियल ईयर में खर्च में कटौती कर सकती है। जिससे कि 3.2 फीसदी का फिस्कल डेफिसिट टारगेट हासिल किया जा सके।

 

 

रेवेन्‍यू 7.29 लाख करोड़ 

डाटा के अनुसार अप्रैल से अक्टूबर तक सरकार को कुल 7.29 लाख करोड़ रुपए रेवेन्यू मिला। यह बजट अनुमान का 48.1 फीसदी है। जो कि पिछले साल की के अचीवमेंट से भी कम है। सरकार ने फाइनेंशियल ईयर 2017-18 के लिए 15.15 लाख करोड़ रुपए रेवेन्यू का टारगेट रखा है। जबकि पिछले फाइनेंशियल ईयर में अक्टूबर तक सरकार को टारगेट का 50.7 फीसदी रेवेन्यू हासिल हुआ था। 

 

कुल खर्च 12.92 लाख करोड़ 
पहले 7 महीने में सरकार का कुल खर्च भी बढ़ा है। अप्रैल से अक्टूबर तक सरकार का कुल खर्च 12.92 लाख करोड़ रहा है जो बजट अनुमान का 60.2 फीसदी है। पिछले फाइनेंशियल ईयर के पहले 7 महीने में सरकार का खर्च बजट अनुमान का 58.2 फीसदी ही था। 

 

 

कैपिटल एक्सपेंडिचर 52.6 फीसदी 
इस दौरान कैपिटल एक्सपेंडिचर बजट अनुमान का 52.6 फीसदी रहा जो पिछले साल 50.7 फीसदी रहा था। वहीं, इंटरेस्ट पेमेंट के साथ रेवेन्यू एक्सपेंडिचर बजट अनुमान का 61.5 फीसदी रहा जो पिछले साल समान अवधि में 59.2 फीसदी रहा था। 

 

 

3.2 फीसदी है फिस्‍कल डेफिसेट का टारगेट
सरकार ने बजट में फाइनेंशियल ईयर 2017-18 के लिए जीडीपी की तुलना में 3.2 फीसदी का फिस्‍कल डेफिसिट का टारगेट का रखा है। जबकि, पिछले फाइनेंशियल ईयर में यह जीडीपी का 3.5 फीसदी रहा था। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट