विज्ञापन
Home » Economy » PolicyCyclone Vayu updates: landfall expected in the morning of June 13, says MHA

अलर्ट / कल सुबह तक गुजरात तट से टकराएगा 'वायु', ट्रेन, बस और हवाई सेवाएं रद्द

पर्यटकों को सुरक्षित स्थानों पर जाने की सलाह

Cyclone Vayu updates: landfall expected in the morning of June 13, says MHA
  • राज्य सरकार ने हाई अलर्ट जारी किया
  • स्कूलों में आज और कल अवकाश की घोषणा कर दी गयी है

नई दिल्ली.  अरब सागर में हवा के कम दबाव की स्थिति गहराने के कारण उत्पन्न चक्रवाती तूफान ‘वायु’ के 13 जून को गुजरात पहुंचने की आशंका हैं। मौसम विभाग के मुताबिक, अगले 24 घंटे में तूफान गंभीर रूप ले सकता है। यह दोपहर तक वेरावल तट से लगभग 300 किमी दक्षिण में स्थित था और 18 किमी प्रतिघंटे की गति से गुजरात की ओर बढ़ रहा था। इसके प्रभाव से गुजरात के तटवर्ती क्षेत्र के मौसम में बदलाव शुरू हो गया है। समुद्र में ऊंची लहरे उठ रही हैं जबकि तटीय क्षेत्रों में तेज हवाएं बह रही हैं। कहीं-कहीं बरसात शुरू हो गई है।

पर्यटकों को सुरक्षित स्थानों पर जाने की सलाह

ऐसे में द्वारका, सोमनाथ, सासन और कच्छ घूमने आए पर्यटकों को 12 जून की शाम के बाद सुरक्षित स्थानों पर जाने की सलाह दी गई है। सीएम ने लोगों से कहा कि किसी तरह का नुकसान न हो इसलिए पर्यटक समय रहते वापस भी लौट सकते हैं। वहीं, प्रधानमंत्री मोदी ने भी वायु चक्रवात को लेकर ट्वीट करके कहा है कि केंद्र इस पर बारीकी से निगाह बनाए हुए है। पीएम मोदी ने कहा, "गुजरात और देश के दूसरे हिस्सों में चक्रवात वायु से बनी स्थिति पर केंद्र बारीकी से नजर रख रहा है। मैं लगातार राज्य सरकार के संपर्क में हूं। एनडीआरएफ और अन्य एजेंसियां ​​हर संभव सहायता प्रदान करने के लिए चौबीसों घंटे काम कर रही हैं।"

राज्य सरकार ने हाई अलर्ट जारी किया

मौसम विभाग के मुताबिक महाराष्ट्र से उत्तर की ओर बढ़ रहा ‘वायु’ बृहस्पतिवार सुबह तक पोरबंदर और कच्छ पहुंच सकता है। तूफान की गति 115 से 130 किमी प्रति घंटा तक हो सकती है। इसके मद्देनजर सौराष्ट्र और कच्छ के तटीय इलाकों में 13-14 जून को भारी बारिश हो सकती है। राज्य सरकार ने तटीय और दक्षिण गुजरात में ‘हाई अलर्ट’ जारी किया है। तटीय इलाकों में एनडीआरएफ जवानों को तैनात किया है। सेना को भी तैयार रहने को कहा गया है। इस बीच हालात से निपटने और तकरीबन 3 लाख लोगों का रेस्क्यू कराने के लिए सेना और एनडीआरएफ ने कमर कस ली है। 

स्कूलों में आज और कल अवकाश की घोषणा कर दी गयी है

इसके मद्देजनर तटवर्ती जिलों व्यापक एहतियाती उपाय किए गए हैं। 10 जिलों के स्कूलों में आज और कल अवकाश की घोषणा कर दी गयी है। तटवर्ती क्षेत्रों की सभी बस, रेल और  विमान सेवाएं भी रद्द कर दी गयी हैं। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी स्वंय स्थिति पर करीबी नजर बनाए हुए हैं और राज्य तथा केंद्र सरकार समन्वय के साथ काम कर रही है। सभी  सरकारी अधिकारियों की छुट्टियां रद्द कर दी गयी हैं। हजारों की संख्या में मछुआरों की नौकाएं वापस लौट आयी हैं। तटरक्षक दल के कमांडर नवतेज सिंह ने बताया कि  अगले 50 से 60 घंटे गुजरात के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं। इस दौरान सबको सतर्क रहने की जरूरत है। यह तूफान कल वेरावल तट से होकर शुक्रवार को  द्वारका पहुंचेगा और फिर राज्य से दूर निकल जाएगा।
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन