Home » Economy » PolicyCOAI seeks more time for new SIM re-verification modes

अभी नहीं मिलेगी घर बैठे सिम वेरिफिकेशन की सर्विस, कंपनियों ने सरकार से मांगा और वक्‍त

COAI एसएमएस बेस्‍ड, वन टाइम पासवर्ड को भी सिम री-वेरिफिकेशन के नए मोड्स में शामिल करने के लिए कोशिश कर रहा है।

1 of

नई दिल्‍ली. यदि आप घर बैठे आधार से मोबाइल सिम वेरिफाई कराने की सर्विस शुरू होने का इंतजार कर रहे हैं, तो इसमें अभी और समय लग सकता है। दरअसल, कंपनियों ने आधार बेस्‍ड मोबाइल सिम री-वेरिफिकेशन के लिए ओटीपी जैसे नए मोड को शुरू करने के लिए UIDAI से और वक्‍त मांगा है। मोबाइल ऑपरेटर्स की संस्‍था सेल्‍युलर ऑपरेटर्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (COAI) के डायरेक्‍टर जनरल राजन मैथ्‍यूज ने बताया कि नए मॉडल को शुरू करने के लिए अभी हम तैयार नहीं हैं। इसलिए हमने UIDAI और टेलिकॉम डिपार्टमेंट से कहा है कि ऑपरेटर्स को और समय दिया जाए क्‍योंकि जो समय-सीमा तय की गई है वह काफी नहीं है।

 

कस्‍टमर एक्‍वीजीशन फॉर्म में संशोधन की होगी जरूरत 
COAI एसएमएस बेस्‍ड, वन टाइम पासवर्ड को भी सिम री-वेरिफिकेशन के नए मोड्स में शामिल करने के लिए कोशिश कर रहा है। इसके लिए वेब बेस्‍ड और आईवीआरएस बेस्‍ड प्रोसेस को मंजूरी मिल गई है। यह भी कहा गया कि नए सिस्‍टम के तहत कस्‍टमर एक्‍वीजीशन फॉर्म को उपयुक्‍त संशोधनों की जरूरत होगी और प्रमुख चीजों के तय हो जाने के बाद ऑपरेटर्स को प्रक्रिया पूरी करने में कम से कम 4-6 हफ्ते लगेंगे। 
संशोधित फॉर्म को टेलीकॉम डिपार्टमेंट जारी करेगा। 

 

इंप्‍लीमेंटेशन के ऑर्डर के बाद मिलें 4-6 हफ्ते 
मैथ्‍यूज ने 20 नवंबर को UIDAI को लिखे एक लेटर में कहा कि ऑपरेटर्स द्वारा किए जाने वाले तकनीकी बदलावों को ध्‍यान में रखते हुए नई प्रोसेस को अमल में लाने के लिए एक पर्याप्‍त अवधि दी जानी चाहिए। यह अवधि टेलीकॉम डिपार्टमेंट द्वारा प्रोसेस फाइनल किए जाने और इस पर अमल के ऑर्डर दिए जाने की तारीख से लेकर कम से कम 4-6 हफ्तों की होनी चाहिए। 

 

जारी रहेगी स्‍टोर्स से वेरिफिकेशन की प्रोसेस 
सरकार ने पिछले महीने घोषणा की थी कि वह आधार बेस्‍ड सिम वेरिफिकेशन को ओटीपी बेस्ड ऑथेंटिकेशन के जरिए आसान बनाएगी। टेलीकॉम कंपनियों को निर्देश दिए गए हैं कि वह ओटीपी बेस्‍ड सिम वेरिफिकेशन के लिए एक स्‍कीम शुरू करें। हालांकि टेलीकॉम कंपनियों के स्‍टोर्स में जाकर सिम वेरिफिकेशन की प्रक्रिया भी जारी रहेगी। सरकार ने कंपनियों को यह भी आदेश दिया है कि वे अक्षम, लंबे समय से बीमार और सीनियर सिटीजन्‍स के घर जाकर उनका सिम वेरिफाई करें। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट