विज्ञापन
Home » Economy » PolicyBoth PPF and EPF can earn good returns

Investment / PPF और EPF दोनों से कमा सकते हैं अच्छा रिटर्न

इन्हें मिलती है  EPF की सुविधा

Both PPF and EPF can earn good returns
  • EPF और PPF की ब्याजों दरों में काफी अंतर

नई दिल्ली। अगर आप भी किसी संगठित क्षेत्र में काम करते हैं तो आपकी कंपनी आपका ईपीएफ काटती होगी। आपको बता दें  कि किसी भी कंपनी में यदि 20 से ज्यादा कर्मचारी काम करते हैं तो उस कंपनी के लिए ईपीएफ काटना जरूरी होता है। कर्मचारी भविष्य निधि योजना के तहत कंपनी कर्मचारियों का ईपीएफ काटकर उसे सरकार को देती है। PPF लंबी अवधि में मोटा फंट जुटाने का एक अच्छा जरिया है। इसी प्रकार जो नौकरीपेशा हैं उनके वेतन से हर महीने EPF में एक खास राशि जमा की जाती है। 

इन्हें मिलती है  EPF की सुविधा

इस स्कीम का फायदा सिर्फ उन लोगों को मिलता है जो नौकरीपेशा हैं। EPF में कर्मचारी जितनी रकम डालता है उतनी ही रकम नियोक्ता की तरफ से भी जमा करवाई जाती है। 


EPF और PPF की ब्याजों दरों में काफी अंतर

EPF पर वित्त वर्ष 2018-19 के लिए 8.65 प्रतिशत का ब्याज दिया जाता है। जबकि PPF की ब्याज दरों के लिए 6 फीसदी का ब्याज दिया जाता है।  अगर आप ज्यादा ब्याज पाने के साथ-साथ इनकम टैक्स का लाभ भी चाहते हैं तो वोलंटरी प्रोविडेंट फंड यानी VPF का सहारा ले सकते हैं।

क्या है वोलंटरी प्रोविडेंट फंड

VPF में ब्याज दर पीपीएफ के बराबर ही मिलती है। इस समय ईपीएफ के साथ ही वीपीएफ पर ब्याज दर बढ़कर 8.65 प्रतिशत है। क्योंकि वीपीएफ की राशि ईपीएफ अकाउंट में ही जमा होती है, इस कारण दोनों की ब्याज दर भी एक समान रहती है। दूसरी तरफ मौजूदा समय में पीपीएफ पर 8 प्रतिशत की ब्याज दर है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन