विज्ञापन
Home » Economy » PolicyBeware of Fake Job offers

धोखाधड़ी / फर्जी नौकरियों के ऑफर से रहे सावधान, मोटी सैलरी का लालच देकर करते हैं ठगी

बेरोजगारों को खासकर निशाना बनाया जा रहा है।

1 of

नई दिल्ली. कहीं आप भी नौकरी के लिए किसी फर्जी वेबसाइट या ठगी के शिकार तो नहीं हो रहे हैं। इन दिनों नौकरी के नाम पर ठगी बढ़ गई है। ठग अलग-अलग जॉब पोर्ट्ल पर खुद को फ्रीलांस जॉब कंसल्टेंट बताते हुए उनके डाटा बेस को ऐक्सेस कर लेते हैं। इसके बाद ये नौकरी की तलाश कर रहे लोगों को ईमेल भेजते हैं। इस प्रक्रिया में अगर 5% लोग भी इनके झांसे में आते हैं तो इनके लिए यह काफी फायदे का सौदा होता है जिसमें वे अच्छी कमाई कर लेते हैं। इन ईमेल में ये ठग लोगों से सिक्यॉरिटी डिपॉजिट की मांग करते हैं। पैसा मिलते ही ये ठग गायब हो जाते हैं।

कई मामले आ चुके हैं सामने

आपको बता दें कि हाल ही में जानी-मानी रिक्रूटमेंट फर्म विजडम जॉब्स के सीईओ अजय कोल्ला को उनके 13 कर्मचारियों के साथ गिरफ्तार कर लिया गया था। इस कंपनी ने 1.04 लाख लोगों को भारत और विदेश में नौकरी देने का झांसा देकर करीब 70 करोड़ रुपए की ठगी को अंजाम दिया था। ऐसा ही एक मामला सितंबर 2018 में दिल्ली में सामने आया, जहां 2 करोड़ की ठगी के मामले में 7 लोगों पकड़ा गया था। इन सभी ने नौकरी की तलाश कर रहे 20 लोगों से 2-2 लाख रुपए के बदले सरकारी कंपनी ONGC में नौकरी दिलाने का वादा किया था।

बेरोजगारों को खासकर निशाना बनाया जा रहा है

बेरोजगारी के चलते इस प्रकार के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकनॉमी के मुताबिक, भारत की बेरोजगारी दर अप्रैल 2019 में बढ़कर 7.6 प्रतिशत पर पहुंच गई जो अक्टूबर 2016 के बाद सबसे अधिक है। क्वेटजल ऐंड हेड हॉन्कोज के सेल्स हेड बिलाल हसन ने कहा, 'छोटे शहरों के हजारों इंजीनियरिंग कॉलेज से पास होने वाले फ्रेशर्स इन ठगों के चंगुल में आसानी से फंस जाते हैं। इन छात्रों के अभिभावक बच्चों की पढ़ाई में 4 से5 लाख रुपये तक खर्च करते हैं और कॉलेज से निकलने के बाद इनकी इच्छा होती है बच्चे जल्द से जल्द मोटा पैसा कमाना शुरू कर दें। विदेश में और खासतौर से खाड़ी देशों में नौकरी की मांग काफी ज्यादा है।'


 

ठगी से बचने के तरीके :


- ज्यादातर कंपनियां नई जॉब्स के बारे में अपनी ऑफिशल वेबसाइट पर जानकारी देती हैं। ऐसे में संदिग्ध ईमेल पर विश्वास करने की बजाय उस कंपनी के ऑफिशल वेबसाइट पर दिए गए करियर ऑप्शन में जाकर जॉब के बारे में चेक करें।

कोई भी एम्प्लॉयर अपनी कंपनी में नौकरी देने के लिए कभी पैसे की डिमांड नहीं करता। अगर आपसे नौकरी के बदले पैसे की मांग की जा रही है तो आपको समझ लेना चाहिए कि यह फेक जॉब ऑफर है। इसके साथ ही संदिग्ध साइट्स पर कभी भी अपने बैंकिंग डीटेल्स को शेयर ना करें।


- अगर आपको किसी कंपनी में नौकरी का ऑफर आता है तो आपको सबसे पहले उस कंपनी के रजिस्टर्ड लैंडलाइन नंबर पर फोन कर वेकन्सी के बारे में जानकारी लेनी चाहिए।

 

- आमतौर पर इस प्रकार के ईमेल फ्री ईमेल सर्विस से आते हैं। अगर यह मेल किसी कंपनी का होगा तो वह उसके डोमेन से ही आएगा। इसके बाद आपको जॉब लेटर के फॉर्मैट पर खास ध्यान देना चाहिए। ऐसे ईमेल में गलत स्पेसिंग और कई स्पेलिंग मिस्टेक होती हैं।

- अगर आपको जॉब ऑफर में 70 से 80 प्रतिशत का इंक्रीमेंट मिल रहा है तो आपको अलर्ट हो जाना चाहिए। इस ऑफर पर विश्वास करने से पहले अपनी इंडस्ट्री के मार्केट ट्रेंड को जान लें। अगर आपको लगता है कि आपके एक्सपीरियंस के हिसाब से ये सैलरी काफी ज्यादा है तो आपको समझ लेना चाहिए कि यह जॉब ऑफर फेक है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन