विज्ञापन
Home » Economy » PolicyWPI inflation, Inflation in India, whole sale price index

अगस्त में 4.53% के साथ 4 माह के निचले स्तर पर WPI महंगाई, खाने-पीने की चीजों के दाम घटे

अगस्त में सब्जियों की महंगाई दर -20.18 फीसदी रही जोकि पहले -14.07 फीसदी पर थी

WPI inflation, Inflation in India, whole sale price index
अगस्त में थोक महंगाई दर 4.53 फीसदी के साथ चार माह के निचले स्तर पर पहुंच गई है। खाद्य पर्दाथों की कीमतों में कमी आने की वजह से थोक मूल्य कीमत सूचकांक (WPI) में कमी आई है। इससे पहले जुलाई में WPI 5.09 फीसदी और बीते साल अगस्त में 3.24 फीसदी पर था। सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, खाने-पीने की चीजों की महंगाई दर -4.04 फीसदी पर रही जोकि बीते माह -2.16 फीसदी पर थी।

  

नई दिल्ली। अगस्त में थोक महंगाई दर 4.53 फीसदी के साथ चार माह के निचले स्तर पर पहुंच गई है। खाद्य पर्दाथों की कीमतों में कमी आने की वजह से थोक मूल्य कीमत सूचकांक (WPI) में कमी आई है। इससे पहले जुलाई में WPI 5.09 फीसदी और बीते साल अगस्त में 3.24 फीसदी पर था। सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, फूड आर्टिकल्स की थोक महंगाई दर -4.04 फीसदी पर रही जोकि बीते माह -2.16 फीसदी पर थी। इसके अलावा, अगस्त में सब्जियों की थोक  महंगाई दर -20.18 फीसदी रही जोकि पहले -14.07 फीसदी पर थी।    

 

डबल डिजिट में फ्यूल और पावर की महंगाई दर 

 

जारी आंकड़ों के मुताबिक, फ्यूल और पावर सेक्टर की महंगाई दर डबल डिजिट में बरकरार है। इस कैटेगरी में महंगाई दर 17.73 फीसदी दर्ज की गई। हालांकि, बीते माह यह आंकड़ा 18.10 फीसदी था। वहीं, अगर सालाना आधार पर देखेंग तो इस कैटेगरी की महंगाई दर पिछले साल अगस्त में 9.86 फीसदी थी। ग्लोबल क्रूड ऑयल रेट्स बढ़ने के साथ-साथ घरेलू बाजार में फ्यूल की कीमतें बढ़ रही हैं। 

 

ब्रेंट क्रूड ऑयल की कीमत 79 डॉलर प्रति बैरल के करीब पहुंच गई है। इसके साथ ही डॉलर के मुकाबले रुपए में कमजोरी जारी है, जिसकी वजह से ऑयल इंपोर्ट बिल बढ़ रहा है और पेट्रोल-डीजल महंगा होता जा रहा है। गुरुवार को दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 81 रुपए प्रति लीटर के साथ ऑल टाइम हाई पर पहुंच गई जबकि मुंबई में पेट्रोल के दाम 88.39 रुपए प्रति लीटर पर है।  

 

अनाज, गेहूं और दालों के दाम बढ़े

 

जारी आंकड़ों के मुताबिक, दालों की महंगाई दर शून्य से नीचे बनी हुई है और अगस्त में यह -14.23 फीसदी पर रही जबकि जुलाई में यह आंकड़ा -17.03 फीसदी था। इसके अलावा, गेहूं की थोक महंगाई दर 8.39 फीसदी रही जोकि पिछले माह 6.31 फीसदी पर थी। वहीं, मोटे अनाज की महंगाई दर 5.05 फीसदी रही जो एक माह पहले 3.51 फीसदी पर थी। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन