Home » Economy » Policysatin credit care in micro finance business

दक्षिण भारत में कारोबार का विस्‍तार करेगी सैटिन क्रेडिटकेयर

कंपनी ने मार्च 2019 तक अपना ग्रॉस असेट अंडरमैनेजमेंट बढ़ा कर 7500 तक करने का लक्ष्‍य तय किया है

satin credit care in micro finance business

नई दिल्‍ली। माइक्रोफाइनेंस कंपनी सैटिन क्रेडिटकेयर नेटवर्क लिमिटेड अगले 2 -3 माह में दक्षिण भारत में अपने आपरेशन का विस्‍तार करेगी। इससे कंपनी की उपस्थिति पूरे भारत में हो जाएगी। मौजूदा समय में माइक्रोफाइनेंस कंपनी भारत के 20 राज्‍यों में कारोबार कर रही है। इसके अलावा कंपनी ने मार्च 2019 तक अपना ग्रॉस असेट अंडरमैनेजमेंट बढ़ा कर 7500 तक करने का लक्ष्‍य तय किया है, जोकि मौजूदा समय में लगभग 6,000 करोड़ रुपए है।

 

सैटिन क्रेडिटकेयर के चेयरमैन एंड मैनेजिंग डायरेक्‍टर एचपी सिंह ने moneybhaskar.com को बताया कि मौजूदा समय में हमारी लोन बुक कुल 6,000 करोड़ रुपए की है। इसमें से हमने लगभग 5,900 करोड़ रुपए का लोन महिलाओं को दिया है। यानी हमारा फोकस ग्रामीण इलाकों में काम करने वाली महिलाएं जिनकी पहुंच बैंक या दूसरे फॉमर्ल सेक्‍टर के संस्‍थान तक नहीं है। 

 

कंपनी का मुनाफा 27.5 करोड़ रुपए 

 

सैटिन क्रेडिटकेयर नेटवर्क लिमिटेड ने वित्‍त वर्ष 2018- 19 की पहली तिमाही में कंसॉलिडेटेड बेसिस पर 27.5 करोड़ रुपए का शुद्ध मुनाफा अर्जित किया। वहीं समान अवधि में  कंपनी प्रॉफिट बिफोर टैक्‍स 41.3 करोड़ रुपए रहा है। पहली तिमाही में कंपनी के प्रदर्शन के बारे में बात करते हुए एचपी सिंह ने बताया कि हम नोटबंदी की मुश्किलों को पीछे छोड़ चुके हैं और तमाम क्षेत्रों में विस्‍तार कर अपने कारोबार को मजबूत बना रहे हैं। 

 

लोन का 57 फीसदी डिस्‍बर्समेंट कैशलेस 

 

एचपी सिंह ने बताया कि टेक्‍नोलॉजी पर हमारा फोकस है और इसकी वजह से हमारी 90 फीसदी ब्रांच में लोन का डिस्‍बर्समेंट कैशलेस हो रहा है वहीं कुल लोन डिस्‍बर्समेंट का 57 फीसदी लोन डिस्‍बर्समेंट कैशेलस रहा है। हम अपनी कलेक्‍शन एफिशिएंसी को बढ़ाने पर काम कर रहे हैं। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट