विज्ञापन
Home » Economy » PolicyRaghuram Rajan Speaks On Rahul Gandhi's Minimum Income Guarantee Scheme

राहुल गांधी की न्यूनतम आय गारंटी योजना पर रघुराम राजन का बड़ा बयान, 'गरीबों तक इस योजना को कैसे लेकर जाएंगे'?

इस योजना के तहत गरीबों को सालाना 72 हजार रुपए दिए जाएंगे

Raghuram Rajan Speaks On Rahul Gandhi's Minimum Income Guarantee Scheme

Minimum Income Guarantee Scheme; Raghuram Rajan Speaks On Rahul Gandhi's NYAY: सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपनी न्यूनतम आय योजना (NYAY, न्याय) की घोषणा की। इस योजना की घोषणा के बाद पूर्व आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि इस योजना का डिटेल क्या होगा, यह मायने रखता है। जैसे, इस योजना को गरीबों तक कैसे लेकर जाएंगे।

नई दिल्ली.

सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपनी न्यूनतम आय योजना (NYAY, न्याय) की घोषणा की। उन्होंने कहा कि बेहद गरीब परिवारों को सालाना 72 हजार रुपए दिए जाएंगे। इस योजना से 5 करोड़ परिवारों और 25 करोड़ लोगों को फासदा मिलेगा। यह राशि इन परिवारों को तब तक दी जाएगी जब तक वे महीने के 12 हजार रुपए नहीं कमाने लगते। इस योजना की घोषणा के बाद पूर्व आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि इस योजना का डिटेल क्या होगा, यह मायने रखता है। जैसे, इस योजना को गरीबों तक कैसे लेकर जाएंगे।

 

यह भी पढ़ें- राहुल गांधी का बड़ा दांव, 5 करोड़ परिवारों को सालाना मिलेंगे 72 हजार रुपए, 25 करोड़ लोगों को फायदा

 

लोगों को पैसा देना उन्हें सशक्त बनाने का तरीका है

NDTV की रिपोर्ट के मुताबिक रघुराम राजन ने अपनी नई किताब 'द थर्ड पिलर' के बारे में बातचीत के दौरान कांग्रेस की न्याय योजना के बारे में अपनी राय रखी। उन्होंने कहा, ‘इस योजना का डिटेल क्या होगा, यह मायने रखता है। यह योजना एक ऐड-ऑन की तरह होगी या जो अभी मौजूदा चीजें हैं उसके विकल्प के तौर पर? हम गरीबों तक कैसे इस योजना को कैसे लेकर जाएंगे? हमने समय के साथ देखा है कि लोगों को सीधे पैसा देना अक्सर उन्हें सशक्त बनाने का एक तरीका है। वे उस धन का उपयोग उन सेवाओं के लिए कर सकते हैं जिनकी उन्हें आवश्यकता है। हमें यह समझने की जरूरत है कि ऐसी कौन सी चीजें या योजनाएं (सब्सिडी) हैं जिन्हें प्रक्रिया में प्रतिस्थापित किया जाएगा।’

 

 

 

क्या है न्याय योजना

राहुल गांधी ने सोमवार को इस योजना का ऐलान करते हुए कहा कि इसे मनरेगा-2 याेजना समझा जाए। इस योजना के तहत गरीबों को तब तक 6 हजार रुपए महीना की मदद दी जाएगी जब तक उनकी मासिक आय 12 हजार रुपए नहीं हो जाती है। इससे गरीब परिवारों की न्यूनतम आय सुनिश्चित की जा सकेगी। उन्हाेंने कहा कि सरकार के पास पैसा है, इससे स्कीम को आसानी से चलाया जा सकता है।

 

 

गरीबी को मिटा देंगे

राहुल गांधी ने कहा, 'गरीबी पर अंतिम वार शुरू हो गया है। हम देश से गरीबी का नामो-निशान मिटा देंगे। उन्हाेंने यह भी कहा कि कांग्रेस ने इस योजना के आर्थिक पहलुओं की समीक्षा कर ली है। स्कीम को फाइनल करने से पहले नामी अर्थशास्त्रियों और जानकारों की राय ली गई है। लोगों ने पिछले पांच साल में बहुत सहा है और अब हम लोगों को न्याय देंगे।'

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन