बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyडीजल-पेट्रोल की कीमतों की मार: एक्‍साइज ड्यूटी में कटौती पर सरकार ने कहा-जस्‍ट वॉच

डीजल-पेट्रोल की कीमतों की मार: एक्‍साइज ड्यूटी में कटौती पर सरकार ने कहा-जस्‍ट वॉच

अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में कच्‍चे तेल की कीमतों में इजाफा होने से देश का तेल आयात बिल 25 से 50 अरब डॉलर तक बढ़ेगा।

1 of
 
नई दिल्‍ली. अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में कच्‍चे तेल की कीमतों में इजाफा होने से देश का तेल आयात बिल 25 से 50 अरब डॉलर तक बढ़ेगा। डिपॉर्टमेंट ऑफ इकोनॉमिक अफेयर्स के सेक्रेटरी सुभाष चंद्र गर्ग ने यह जानकारी दी है। हालांकि उन्‍होंने  डीजल-पेट्रोल पर एक्‍साइज ड्यूटी घटाने को लेकर कोई संकेत नहीं दिया है। 2017-18 में तेल आयात बिल 72 अरब डॉलर था। पिछले कुछ महीनों से कच्‍चे तेल की कीमतें बढ़ रहीं हैं और यह 80 डॉलर प्रति बैरल के स्‍तर पर पहुंच गईं हैं।

 
 
इकोनॉमिक ग्रोथ पर नहीं पड़ेगा प्रभाव
सुभाष चंद्र गर्ग ने कहा कि हालांकि तेल कीमतें बढ़ने से इकोनॉमिक ग्रोथ पर असर नहीं पड़ेगा। तेल की कीमतें 80 डॉलर प्रति बैरल के स्‍तर पर पहुंच गईं हैं। नवंबर 2014 के बाद तेल कीमतों का यह उच्‍च्‍तम स्‍तर है। उन्‍होंने पत्रकारों को बताया कि सरकार स्थिति पर नजर रख रही है और सभी जरूरी कदम उठाए जाएंगे। यह पूछे जाने पर कि क्‍या सरकार पेट्रोल और डीजल पर एक्‍साइज ड्यूटी में कटौती करेगी, उन्‍होंने कहा कि उन्‍हें इस मोर्चे पर कुछ नहीं कहना है। उन्‍होंने कहा कि देखते है, मौके के हिसाब से फैसले लिए जाएगा।
 
 
नवंबर 2014 के बाद पहली बार 80 डॉलर के पार गया क्रूड
नवंबर 2014 के बाद पहली बार ब्रेंट क्रूड का दाम अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में 80 डॉलर के पार निकला है। क्रूड के दाम बढ़ने के कई कारण हैं, जिसमें ओपेक व रूस द्वारा प्रोडक्शन घटाना, ईरान पर अमेरिका की तरफ से प्रतिबंध के बाद सप्लाई घटने का डर जैसे मामले शामिल हैं। ईरान कच्‍चे तेल का तीसरा सबसे बड़ा उत्‍पादक देश है। इसके अलावा वेनेजुएला से कच्‍चे तेल की आपूर्ति में कमी आना भी इसकी वजह है।
 
 
पेट्रोल के दाम बढ़े
ग्‍लोबल मार्केट में क्रूड के बढ़ते दाम और डॉलर के मुकाबले रुपए की कमजोर होती स्थिति के चलते देश में पेट्रोल और डीजल सहित एविएशन फ्यूल के दाम बढ़ रहे हैं। सोमवार से अभी तक पेटोल के दाम में करीब 1 रुपए की बढ़ोत्‍तरी हो चुकी है। हालांकि कर्नाटक में चुनाव के चलते 19 दिनों तक पेट्रो उत्‍पादों के दाम नहीं बढ़ाए गए थे। लेकिन उसके बाद से डीजल के दाम में करीब 1.15 रुपए प्रति लीटर की बढ़त हो चुकी है। शुक्रवार को पेट्रोल के दाम 29 पैसे प्रति लीटर बढ़ाए जाने से 5 साल के हाई पर आ गए हैं। अब दिल्‍ली में एक लीटर पेट्रोल 76.61 रुपए में मिल रहा है। वहीं डीजल के दाम दिल्‍ली में प्रति लीटर 67.08 रुपए हो गए हैं।
 
एटीएम पर कैश को लेकर स्थिति नार्मल
सुभाष चंद्र गर्ग ने कहा कि देश में देश में कैश की स्थिति अब नॉर्मल है। एटीएम सही तरीके से काम कर रहे हैं। कैश को लेकर देश के किसी हिस्‍से में दिक्‍कत की जानकारी नहीं है। इससे पहले देश के कुछ हिस्‍सों में कैश की उपलब्‍धता को लेकर दिक्‍कत पैदा हो गई थी। लोगों को एटीएम से कैश नहीं मिल पा रहा था। कैश की उपलब्‍धता को लेकर दिक्‍कत को दूर करने के लिए सरकार ने कदम उठाए थे।
 
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट