बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyफिल्म देखना हो सकता है महंगा, मल्टीप्लेक्स में फूड-बेवरेज ले जाने की इजाजत मिली तो 40% तक बढ़ेंगे टिकट के दाम

फिल्म देखना हो सकता है महंगा, मल्टीप्लेक्स में फूड-बेवरेज ले जाने की इजाजत मिली तो 40% तक बढ़ेंगे टिकट के दाम

PVR के कुल कारोबार में 30 फीसदी से अधिक की हिस्सेदारी फूड व बेवरेज की

Multiplex Food and beverage

राजीव कुमार,  नई दिल्‍ली

 

सिनेमा देखने जाने के दौरान मल्टीप्लेक्स में फूड व बेवरेज ले जाने की इजाजत मिल गई तो आपको सिनेमा देखने के लिए पहले के मुकाबले 20-40 फीसदी तक अधिक कीमत चुकानी पड़ेगी। यानी कि अभी अगर सिनेमा के टिकट के लिए आप 200 रुपए चुकाते हैं तो आपको 240-280 रुपए तक देने पड़ सकते हैं। टिकट के दाम में अंतर इसलिए होगा, क्योंकि अलग-अलग मल्टीप्लेक्स के कुल कारोबार में फूड एवं बेवरेज की हिस्सेदारी अलग-अलग है। मल्टीप्लेक्स में फूड व बेवरेज ले जाने की इजाजत को लेकर बाम्बे हाईकोर्ट में सुनवाई चल रही है।

 

रेवेन्‍यू में कमी के आसार 
डेलॉइट इंडिया के पार्टनर एमएस मनी ने moneybhaskar से बातचीत मेें कहा कि अगर फूड व बेवरेज को मल्टीप्लेक्स में ले जाने की इजाजत मिल जाती है तो मल्टीप्लेक्स को फूड व बेवरेज के कारोबार से मिलने वाले रेवन्यू में कमी आएगी, जिसकी भरपाई मल्टीप्लेक्स वाले निश्चित रूप से टिकट के दाम बढ़ाकर करेंगे।

 

 

30 फीसदी की है हिस्‍सेदारी 
मल्टीप्लेक्स के लिए फूड व बेवरेज का कारोबार कितना अहम है, इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि पीवीआर जैसे बड़े मल्टीप्लेक्स के कुल कारोबार में फूड व बेवरेज की हिस्सेदारी 30 फीसदी से अधिक है। चालू वित्त वर्ष 2018-19 की पहली तिमाही (अप्रैल-जून) में पीवीआर ने 684.36 करोड़ रुपए का कारोबार किया और इनमें फूड एवं बेवरेज की हिस्सेदारी 202.71करोड़ रुपए की थी। मल्टीप्लेक्स के कारोबार में बॉक्स ऑफिस कलेक्शन यानी कि टिकट के दाम से होने वाले कलेक्शन के बाद सबसे अधिक रेवन्यू फूड व बेवरेज से आते हैं। 

 

 

नहीं खाने पीने पर भी चुकानी पड़ेगी अधिक कीमत 
मल्टीप्लेक्स के कारोबार से जुड़े कारोबारियों ने मामला कोर्ट में होने के कारण नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि सिनेमा हाल में फूड व बेवरेज ले जाने की मंजूरी मिलने पर उन लोगों को भी टिकट के ज्यादा दाम चुकाने पड़ेंगे, जो अभी सिर्फ सिनेमा देखकर आ जाते हैं। उन्होंने बताया कि कई ऐसे दर्शक होते हैं तो मल्टीप्लेक्स में फूड व बेवरेज के महंगे होने की वजह से सिर्फ सिनेमा देखते है, कुछ खाते-पीते नहीं है। लेकिन अगर फूड व बेवरेज ले जाने की इजाजत मिलती है तो निश्चित रूप से टिकट के दाम बढेंगे जिसकी कीमत सभी दर्शकों को चुकानी होगी।  

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट